INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

अब रजिस्ट्री दफ्तर में भी पहले से लेना होगा पहले से समय, प्रयोग के तौर पर बरेली और नोएडा में किया लागू

INA  NEWS DESK
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्टांप एवं पंजीयन विभाग ने भीड़ कम करने के लिए रजिस्ट्री दफ्तर में कुछ बदलाव किए हैं। अब पासपोर्ट ऑफिस की तरह ही रजिस्ट्री दफ्तर में भी आवेदक को अप्वाइंटमेंट लेना पड़ेगा। 



फिलहाल विभाग ने प्रयोग के तौर पर इसे बरेली और नोएडा समेत अधिक रजिस्ट्री वाले शहरों में लागू कर दिया है। स्टांप एवं पंजीयन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल ने बताया कि प्रयोग सफल होने पर यह व्यवस्था प्रदेश के सभी रजिस्ट्री दफ्तरों में लागू की जाएगी। 
नई व्यवस्था के तहत रजिस्ट्री कराने से पहले आवेदन को अप्वाइंटमेंट के लिए आवेदन करना होगा। इससे आम लोगों के साथ ही साथ बुजुर्ग, बीमार और दिव्यांग जनों को भी बड़ी राहत मिलेगी। 
दरअसल, सरकार की ओर से लॉकडाउन के अंतिम चरण में रजिस्ट्री दफ्तर खुलने पर अधिक भीड़ जुटने लगी थी। इस पर विभाग ने अप्वाइंटमेंट सिस्टम लागू करने का फैसला किया, लेकिन कुछ दिन बाद ही लॉकडाउन खुलने से यह व्यवस्था लागू नहीं हो पाई। अब विभाग ने एक बार फिर से यह व्यवस्था लागू करने का फैसला किया है।         
एक दिन में अधिकतम हो रहीं 35 रजिस्ट्री
अभी जिन रजिस्ट्री दफ्तरों में यह सिस्टम लागू है, वहां एक दिन में अधिकतम 35 रजिस्ट्री हो रही हैं, क्योंकि यहां अभी एक ही कंप्यूटर पर काम हो रहा है। कम रजिस्ट्री होने के बाद भी अपेक्षा के अनुरूप भीड़ कम नहीं होने पर एक दफ्तर में कम से कम 3 कंप्यूटर लगाने का निर्णय लिया गया, ताकि एक दिन में रजिस्ट्री की संख्या 90 से अधिक हो सकें।             


कोई टिप्पणी नहीं