INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

महाकाल की नगरी उज्जैन में 22 वां अंतरराष्ट्रीय ठहाका सम्मेलन

DESK : 11 जनवरी 2022 दिन भर से ही उज्जैन में उल्लास और उमंग सा माहौल था । शहर मे चारों और अंतर्राष्ट्रीय ठहाका सम्मेलन के पोस्टर लगे हुए थे जो यह बता रहे थे कि महाकाल की नगरी उज्जैन में कुछ बहुत ही बड़ा और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक अद्भुत उत्सव जैसा कार्यक्रम होने वाला है मेरा भी सौभाग्य था कि मैं इसका हिस्सा बनने  जा रही थी । कार्यक्रम शाम को 6:00 बजे शुरू होना था । मेरे साथ सभी को शाम के 6:00 बजे का इंतजार था क्योंकि इस कार्यक्रम में फिल्म स्टार चंकी पांडे , लाफ्टर चैलेंज चैंपियन सुरेश अलबेला, बॉलीवुड से स्वर्णा मुद्गल ,डांसर पूजा बिष्ट के साथ वरिष्ठ साहित्यकार सत्यनारायण सत्तन जी कवयित्री भुवन मोहिनी प्रसिद्ध गीतकार हेमंत श्रीमाल जी हास्य कवि धीरज शर्मा जी यूथ आइकन के रूप में कुमार संभव व राहुल शर्मा जी मंच की शोभा बढ़ाने वाले है मैं भी समय पर कार्यक्रम में पहुंच चुकी थी और जैसे ही शाम के 6:00 बजे फ्रीगंज ग्रैंड होटल पैलेस का मैदान खचाखच भीड़ से भरना शुरू हो गया । 

बहुत ही अद्भुत और शानदार मंच सज चुका था रोशनी से सजा हुआ मंच एवं मैदान अद्भुत शोभा दे रहा था ।मैदान में हजारों दर्शक कार्यक्रम शुरू होने का इंतजार कर रहे थे अपने नियत समय पर अब कार्यक्रम भी शुरू हो चुका था कार्यक्रम की शुरुआत संगीत कार्यक्रमों से हुई उज्जैन के संगीतकार और गायकों ने  फिल्मी गीतों के मधुर संगीत से दर्शकों को आकर्षित करना शुरू कर दिया । जैसे ही ठीक 7:00 बजे तभी अंतर्राष्ट्रीय ठहाका सम्मेलन के आयोजक संयोजक और संचालक डॉ महेंद्र यादव  जी ने मंच पर प्रवेश किया उन्हें देखते ही पूरी जनता ने पूरे जोश के साथ जय महाकाल के नारे लगाए और तालियों से डॉक्टर महेंद्र यादव जी का स्वागत किया डॉक्टर महेंद्र यादव ठहाका सम्मेलन के संस्थापक होने के  साथ साथ उज्जैन की एक नामी शख्सियत हैं और ऐसा वहां उपस्थित दर्शकों का उनके प्रति प्यार भी दिखा रहा था। डॉ महेंद्र यादव जी ने मंच की कमान संभालते ही पूरी जनता को जैसे बांध ही लिया साथ ही उन्होंने अपने सभी अतिथियों एवं ठहाका टीम व समिति के सदस्यों को भी  ससम्मान मंच पर आमंत्रित किया । तदोपरांत उन्होनें विधिवत कार्यक्रम शुरू करने की घोषणा की । सभी मुख्य एवं विशिष्ट अतिथियों व आमंत्रित कवियों का  स्वागत सत्कार ठहाका टीम के सदस्य आदरणीय हरि सिंह यादव ललित लुल्ला जी मनोहर परमार आशीष खंडेलवाल रितिक यादव प्रभात शर्मा राहुल प्रजापति रोहित चौहान शुभम अरोड़ा व अन्य  सदस्यो द्वारा  मालवा परंपरा के अनुसार किया गया ।

सत्कार करने के उपरांत मां शारदे की वंदना दिल्ली से आई कवयित्री नमिता नमन जी द्वारा की गई । अशोक भाटी जी ,नरेंद्र सिंह अकेला ,दिनेश दिग्गज जी द्वारा प्रशस्ति वाचन किया ।कवि सम्मेलन के श्रंखला में सबसे पहले उज्जैन के हास्य व्यग्य कवि सौरभ चातक जी ने अपने काव्य पाठ से कवि सम्मेलन की शुरुआत की , राहुल शर्मा जी ओज कविताओं से तथा कुमारसंभव जी ने श्रृंगार की रचनाओं से दर्शकों को मंच से बांधे रखा इंदौर से आई श्रृंगार की कवयित्री भुवन मोहिनी ने अपने शृंगार रस की कविताओं से दर्शकों का मन मोह लिया आदरणीय डॉ महेंद्र यादव का अद्भुत अवर्णनीय संचालन वाकई  देखते ही बनता था । डॉ महेंद्र यादव और बॉलीवुड स्टार स्वर्णा मुद्गल जी के जुमले व कॉमेडी से भरे संचालन के तालमेल से दर्शक भी पूरे  जोश उत्साह द्वारा तालियों की गड़गड़ाहट के साथ कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दे रहे थे ।

ठहाका सम्मेलन का यह कार्यक्रम उस समय चरम पर पहुंच गया जब फिल्म स्टार चंकी पांडे ने मंच पर अपनी उपस्थिति दी । पूरा मंच और मैदान एक अलग ही रूप में आ चुका था फिल्म स्टार चंकी पांडे ने अपने प्रसिद्ध फिल्मी गीतों को गाकर डांस व गाने से ऐसा समां बांधा कि सारे दर्शक खुद को रोक नहीं पाए और उनके साथ ही नाचने गाने लगे चंकी पांडे जी के साथ बॉलीवुड से आई डांसर पूजा बिष्ट और उनकी पार्टी  व स्वयं आयोजक व संयोजक डॉ महेंद्र यादव जी ने भी उनका पूरा साथ दिया ।अभी फिल्मी नाच गाने का कार्यक्रम चल ही रहा था कि इसी बीच मंच पर जूनियर  बच्चा यादव यानी अंकित सिसोदिया जी की धमाकेदार उपस्थिति हुई उनकी कॉमेडी से सारी जनता हँस हँस के लोट पोट हो गई और खूब ठहाके लगाए । 

इसी बीच उज्जैन के तीन बाल कलाकारों ने अपनी कविता व नृत्य से दर्शकों का मन मोह लिया । ऐसा प्रतीत हो रहा था कि पूरा उज्जैन वहां पर आकर खड़ा हो गया हो । रात के 10:00 बजने को थे इतनी ठंड में भी दर्शक पूरे उत्साह और उल्लास के साथ कार्यक्रम का आनंद ले रहे थे । अब क्योंकि घड़ी की सूईयाँ आगे बढ़ती जा रही थी और समय  समापन की ओर अग्रसर हो रहा था इसलिए वरिष्ठ साहित्यकार आदरणीय सत्यनारायण सत्तन के काव्य पाठ के उपरांत ठहाका सम्मेलन के आयोजक डॉ महेंद्र यादव  जी ने ठहाका सम्मानो की घोषणा कर मंच पर उपस्थित मुख्य अतिथि माननीय उच्च शिक्षा मंत्री आदरणीय मोहन यादव जी विशिष्ट अतिथि आदरणीय प्रेम सिंह यादव जी व  पूर्व विधायक भारती जी के कर कमलों द्वारा चंकी पांडे जी को 22 वें अंतर्राष्ट्रीय ठहाका सम्मेलन का मुख्य "ठहाका सम्मान" से अलंकृत किया गया ,इसी श्रृंखला  में वरिष्ठ साहित्यकार कवि सत्यनारायण सत्तन जी को कालिदास सम्मान से अलंकृत किया श्रृंगार का कवयित्री भुवन मोहनी जी को शकुंतला सम्मान, लाफ्टर चैंपियन सुरेश अलबेला जी को ठहाका चैंपियन सम्मान ,कभी धीरज शर्मा जी को मालवा का रजनीकांत ,कवि सौरभ चातक जी  को ठहाका हास्य व्यंग सम्मान ,वरिष्ठ कवि एवं  साहित्यकार हेमंत श्रीमाल जी को ठहाका उज्जैन रत्न सम्मान कुमार संभव व राहुल शर्मा जी को यूथ आइकन सम्मान  विशिष्ट अतिथियों द्वारा देकर सुशोभित किया गया ठहाका समिति की सदस्य उज्जैन की प्रसिद्ध शायरा एवं  पत्रकार सुश्री शबनम अली द्वारा आदरणीय नरेंद्र जी अकेला  द्वारा लिखित ठहाका बुलेटिन का वाचन किया गया बुलेटिन वाचन के उपरांत कार्यक्रम के आयोजक संयोजक ने विधिवत रूप से समापन की घोषणा की और कार्यक्रम बिना किसी बाधा के पूर्ण रूप से सफल हुआ ।

देखने योग्य और सबसे बड़ी बात यह थी कि इतना बड़ा आयोजन कार्यक्रम होने के बाद भी अनुशासन पूर्ण रूप से बना हुआ था जो वाकई काबिले तारीफ था

मैं आँखो देखी के अनुसार यह कह सकती हूं कि यह कार्यक्रम अंतर्राष्ट्रीय स्तर का एक ऐसा कार्यक्रम है जिसे कला व संस्कृति का त्यौहार कहा जा सकता है या यूं भी कहा जा सकता है कि यह कार्यक्रम बॉलीवुड के फिल्मफेयर अवार्ड वाले कार्यक्रम से किसी भी स्तर पर कम नहीं

मेरा सभी पाठकों व  दर्शकों से निवेदन है कि जो भी अभी तक इस कार्यक्रम को किसी कारण उज्जैन आकर देखने नहीं आ पाया वह अपने जीवन काल में एक बार इस कार्यक्रम को उज्जैन आकर अवश्य देखें यहां आपको कला संस्कृति और साहित्य का समागम एक साथ देखने को मिलेगा ।

कवयित्री नमिता नमन की कलम से 

No comments

Welome INA NEWS, Whattsup : 9012206374