INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

उत्तर प्रदेश में महा जंगलराज, हिस्ट्रीशीटर ने 8 पुलिसकर्मियों को मौत के घाट उतारा, सात घायल, भाजपा नेता पर योगी ने साधी चुप्पी

उदय सिंह यादव, लखनऊ

कानपुर - उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं. इसमें बिल्‍हौर के सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद (Martyr) हो गए हैं. 

एसओ बिठूर समेत 7 पुलिसकर्मी गम्भीर रूप से घायल हैं. सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए यूपी पुलिस ताबड़तोड़ दबिश दे रही है.

दहला देने वाली इस घटना पर उत्‍तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक एचसी अवस्‍थी ने कहा कि हमलावर बदमाशों की तलाश में एसटीएफ को लगाया गया है. एसटीएफ के आईजी भी मौके पर पहुंच रहे हैं. 

अपराधियों के खिलाफ बड़ा अभियान चलाया जा रहा है.

उन्‍होंने बताया कि हस्ट्रीशीटर विकास दुबे के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 (हत्‍या का प्रयास) के तहत मामला दर्ज था. पुलिस इसी सिलसिले में उसे पकड़ने गई थी. बदमाशों ने मार्ग पर जीसीबी रख दी थी, जिससे मार्ग बाधित हो गया था. पुलिस टीम के वहां रुकते ही ऊंचाई से उनपर फायरिंग शुरू कर दी गई, जिसमें 8 पुलिसवाले मारे गए. डीजीपी ने 7 जवानों के घायल होने की बात भी कही है

हिस्ट्रीशीटर है भाजपा नेता

कानपुर का यह हिस्ट्रीशीटर कई नेताओं की हत्या का दोषी है, जिसकी भाजपा नेताओं से काफी नज़दीकियां है, जिस का आलम यह है कि इस पर हाथ डालने की हिम्मत किसी पुलिसकर्मी की नहीं थी, पुलिसकर्मियों की हत्या में सत्ता में नेतानगरी की यही सोच उसके सर पर चढ़कर बोली, किसी की परवाह न करते हुए हिस्ट्रीशीटर ने पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग की, जिसमें उसने 8 पुलिसकर्मियों को घटनास्थल पर ही मौत के घाट उतार दिया इसमें 7 पुलिस कर्मी भी घायल हो गए हैं

INA NEWS DESK

2 टिप्‍पणियां: