INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

देश विरोधी नारे लगाने वालों पर होगा देशद्रोह का मुकदमा : मुख्यमंत्री योगी

कानपुर : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में हुई रैली के बहाने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। 

उन्होंने कहा कि सीएए का विरोध करने के पीछे विपक्षी पार्टियों का एक ही मकसद है कि वे आईएसआई एजेंटों की देश में इंट्री कराना चाहती हैं। उन्होंने बड़े चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि उत्तर प्रदेश की धरती पर कोई देश विरोधी नारे लगाएगा, तो उस पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होगा।

कानपुर के नौबस्ता के साकेत नगर स्थित कामर्शियल ग्राउंड में बुधवार को हुई रैली में उन्होंने कहा कि अपने देश के खिलाफ गद्दारी करना सबसे बड़ा पाप है। सपा, कांग्रेस, वामपंथी सब मिलकर लोगों में सिर्फ भ्रम फै ला रहे हैं। योगी ने आम जनता से भी कहा कि देश में भ्रम फैलाने वालों का खुलकर विरोध करने की जरूरत है।

उन्होंने महाभारत काल का एक उदाहरण भी दिया। बोले, द्रौपदी ने चीर हरण को लेकर जब सवाल किया कि इस पाप का दोषी कौन है तो सभी चुप रहे। फिर विदुर बोले कि जो लोग मौन हैं, वे भी पाप के भागीदार हैं। सीएम ने कहा कि इसलिए जरूरी है कि सीएए के मुद्दे पर सभी को खुलकर लोगों का भ्रम दूर करना चाहिए।

कहा कि लोकतंत्र में धरना, प्रदर्शन शांतिपूर्वक करना सभी का अधिकार है लेकिन जो सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान करेगा, वसूली भी उसी से की जाएगी। योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने जब कह दिया है कि सीएए का एनआरसी से कोई संबंध नहीं है फिर भी कुछ तथाकथित लोग अपने घर की महिलाओं, बच्चों को विरोध करने भेज रहे हैं।

इस मौके पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी जमकर विपक्षियों पर हमला बोला। रैली में भाजपा महामंत्री संगठन सुनील बंसल, परिवहन मंत्री अशोक कटारिया, क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह, कई सांसद और विधायक समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

INA NEWS DESK


No comments