INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

कासगंज : बिजली का तार डालने के विवाद में खूनी संघर्ष, भाजपा विधायक के रिश्तेदार की हत्या

विजय कुमार, संवाददाता - एटा/कासगंज
कासगंज : कासगंज जिले के पटियाली कोतवाली क्षेत्र के गांव गढ़ी कनेसर में रविवार को बिजली का तार डालने को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। एक पक्ष की ओर से जमकर पथराव और फायरिंग की गई। घटना में भाजपा विधायक के रिश्तेदार की मौत हो गई, जबकि परिवार के ही पांच लोग घायल हो गए। पीड़ित पक्ष ने ग्राम प्रधान सहित छह के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया गया है। आरोपी प्रधान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
गांव गढ़ी कनेसर में दो विद्युत ट्रांसफार्मर रख हैं। इनमें एक ट्रांसफार्मर खराब है। विधायक के रिश्तेदारों ने ग्राम प्रधान देवेंद्र के मोहल्ले में रखे ट्रांसफार्मर से विद्युत लाइन डाल ली थी। इसी बात का विवाद था। रविवार की सुबह ग्राम प्रधान ने विद्युत लाइन काट दी थी। अलीगंज विधायक सत्यपाल सिंह राठौर के रिश्तेदार राजेश (55) पुत्र नरायनदास जब शिकायत करने गए तो ग्राम प्रधान और उसके साथियों ने घेर कर उनके साथ मारपीट शुरू कर दी।
राजेश की चीखपुकार सुनकर उनके परिजन अवधेश, ओमपाल वीकेश, रूकुमपाल सहित अन्य परिजन भी पहुंच गए। आरोप है कि ग्राम प्रधान की ओर से उनके भाई दिनेश, उमेश पुत्र जदुनाथ, रंजित पुत्र उमेश, अमन पुत्र रमेश सिंह, जितेंद्र पुत्र देवेंद्र ने पथराव और फायरिंग कर दी। चार-पांच राउंड फायरिंग की गई।
घटना के दौरान पत्थर लगने से विधायक के रिश्तेदार राजेश की मौके पर मौत हो गई। जबकि अवधेश, विजय प्रताप, गगन कुमार, दिनेश, ओमपाल घायल हो गए। घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया गया। घटना की सूचना पर डीएम सीपी सिंह, एसपी सुशील घुले, एएसपी डा. पवित्र मोहन त्रिपाठी पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंच गए।
मृतक के भतीजे महेश ने आरोपी ग्राम प्रधान देवेंद्र, दिनेश, उमेश, संजीत, अमन, जितेंद्र के खिलाफ हत्या का मुकदमा पटियाली कोतवाली में दर्ज कराया है। एसपी सुशील घुले ने बताया कि बिजली की लाइन डालने को लेकर विवाद हुआ था। इसमें राजेश के चोट लग जाने से उनकी मौत हो गई। अन्य लोग घायल हो गए। पीड़ित पक्ष की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर आरोपी ग्राम प्रधान को गिरफ्तार कर लिया है।
INA NEWS DESK

कोई टिप्पणी नहीं