INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

फूड इंस्पेक्टर के घर विजिलेंस का छापा


जम्मू - विजिलेंस टीम ने भ्रष्टाचार की शिकायत के बाद गुरूवार को तहसील सप्लाई अफसर (टीएसओ) प्रणव गंडोत्रा के आफिस व आवासों पर छापा मारकर चार किलो सोने व 11 किलो चांदी के बर्तन जब्त किए हैं। साथ ही कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी बरामद किए हैं। कार्रवाई के दौरान गंडोत्रा पकड़ से बाहर है। अखनूर रोड स्थित फ्लैट पर सिर्फ परिवार के लोग ही मौजूद थे।


 जिस मामले में यह कार्रवाई की गई वह 2015 का बताया जा रहा है। उस समय गंडोत्रा राजोरी और कालाकोट में टीएसओ के रूप में तैनात थे। गंडोत्रा वर्तमान में सीएपीडी विभाग जम्मू के सर्कल-2 के टीएसओ के तौर पर तैनात हैं, और उनके पास मिट्टी के तेल इंस्पेक्टर का चार्ज है।

प्रणव गंडोत्रा पर आरोप है कि उसने वर्ष 2015 में राजोरी और कालाकोट में टीएसओ रहने के दौरान राशन वितरण में बड़े पैमाने पर धांधली की। राजोरी के वार्ड नंबर-8 के रहने वाले मोहम्मद जफर ने विजिलेंस के पास शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने बताया कि राजोरी के टीएसओ रहते उनके पास सहायक निदेशक सीएपीडी राजोरी की तरफ से 8120914 रुपये आए। यह राशि दो आधिकारिक चेक से पहुंची।

यह पैसा निजी राशन डीलरों को दिया जाना था, लेकिन प्रणव ने डीलरों को कम पैसा दिया और बाकी अवैध रूप से निकाल लिया। विजिलेंस ने 18 जुलाई 2018 को उसके खिलाफ लाखों रुपये के घोटाले का केस दर्ज किया। इसी सिलसिले में गुरूवार को छापेमारी की गई। टीम ने उसके कार्यालय, छन्नी स्थित घर व अखनूर रोड स्थित फ्लैट पर छापेमारी की। जहां से उक्त बरामदगी दर्ज की गई।

रिकार्ड से छेड़छाड़ कर हड़पा धन
विजिलेंस ने जांच में पाया कि एक चेक 39,56,094 और दूसरा 41,64,820 रुपये का था। जांच में यह भी पाया गया कि डीलरों को कम पैसा दिया और बाकी का रिकार्ड से छेड़छाड़ कर खुद हड़प लिया। इससे सरकारी खजाने में बड़ी सेंध लगाई गई।

अपनी पसंद की पोस्टिंग ली
विजिलेंस ने जांच में यह भी पाया है कि आरोपी ने अपने छोटे से करियर में मनपसंद पोस्टिंग पाई। अवैध गतिविधियों और पैसे के दम पर यह पोस्टिंग ली गई। सूत्रों का कहना है कि प्रणव ने महकमे में पैसे के दम पर जुगाड़ फिट कर रखा है। इसके बूते वह अपनी पसंद की पोस्टिंग ले लेता है।

फार्च्यूनर, इनोवा व आई 10 भी
छापे के दौरान विजिलेंस को पता चला कि प्रणव के पास एक फार्चूनर कार, एक इनोवा कार, एक आई 10 कार भी है।

No comments