INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

भगवान परशुराम कोई राजनैतिक साधन नहीं अपितु साध्य का विषय है - राजपुरोहित मधुर

  • साध्य का विषय है भगवान परशुराम - राजपुरोहित मधुर जी

DESK : श्री अयोध्या धाम से राष्ट्रीय परशुराम परिषद से धर्माचार्य राजपुरोहित मधुर जी ने कहा है कि विगत कई वर्षों से भगवान श्री परशुराम जी के बारे में सभी राजनैतिक दल अपनी-अपनी रोटियां  सेकने  लगे है 

श्री मधुर जी ने  कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा जितने भी राजनैतिक दल /लोग भगवान परशुराम जी को राजनैतिक संसाधन बना कर स्वयं को ब्राह्मणों का मसीहा बना रहे है 

तो उन लोगों को मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं भगवान श्री परशुराम श्री विष्णु जी के छठे अवतार हैं और वह परम पूज्य हैं पूरे जनमानस में फैली हुई गलतफहमिया की भगवान परशुराम केवल ब्राहमण के देवता है तो यह बिल्कुल गलत है जैसे भगवान श्री राम  छत्रिय कुल मे जन्म लेने के बाद संपूर्ण विश्व  जगत  पालनहार बन मानव जनजाति सृष्टि  में जन्मे प्राणी पशु पक्षी वनस्पति इत्यादि के लिए सनातन धर्म की रक्षा के लिए भगवान  राम मनुष्य तन धारण किया भगवान राम जी विष्णु के अवतार थे तो वह ना तो किसी धर्म ना किसी जाति के अपितु संपूर्ण जगत के भगवान कहलाए. 

ठीक ऐसे ही ब्राह्मण कुल में जन्म लेकर भगवान श्री परशुराम जी  अपनी सत्ता  का संचालन किया और संपूर्ण सृष्टि एवं मानव जगत की समान दृष्टि से रक्षा की भगवान श्री परशुराम जी की आराधना करने से धर्म अर्थ काम मोक्ष चारों की प्राप्ति होती है संपूर्ण मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं क्योंकि भगवान श्री परशुराम जी को चिरंजीवी वरदान प्राप्त है,

यह सतयुग त्रेता युग द्वापर युग एवं कलयुग मे भी अप्रत्यक्ष होते हुए प्रत्यक्ष रुप में संपूर्ण जगत में विराजमान है परंतु तमाम राजनैतिक दलों द्वारा भगवान  परशुराम जी के बारे में ब्राहमणवादी या फिर ब्राह्मणों के देवता ऐसा कह कर संपूर्ण जनमानस में गलत भ्रांतियां फैलाई गई इन्हीं गलत भ्रांतियो पर राष्ट्रीय परशुराम परिषद के द्वारा संपूर्ण देशों में राज्यों में जनपदों में घरों घरों तक श्री परशुराम जी की कथा का प्रचार-प्रसार श्री राजपुरोहित मधुर जी द्वारा किया जाएगा जिससे संपूर्ण विश्व को एक नई दिशा प्राप्त होगी !!

INA NEWS DESK 

                       

No comments

Welome INA NEWS, Whattsup : 9012206374