INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

पंत बोले- दूधिया रोशनी में गुलाबी गेंद खेलना मुश्किल, लेकिन चैलेंज के लिए तैयार

 भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कहा है कि गुलाबी गेंद से खेले गए अभ्यास मैच में आक्रामक शतक जमाकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 17 दिसंबर से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के लिए उनका आत्मविश्वास बढ़ा है. इस साल यूएई में आईपीएल में फॉर्म और फिटनेस के लिए जूझते रहे पंत ने ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ अभ्यास मैच में 73 गेंद में 103 रन बनाए थे.  भारत को अब एडिलेड में डे नाइट के टेस्ट के लिए विकेटकीपर के तौर पर पंत और ऋद्धिमान साहा में से चुनना है. 


पंत ने कहा ,‘इस शतक से आत्मविश्वास काफी बढ़ा है. मैं एक महीने से ऑस्ट्रेलिया में हूं, लेकिन गले में अकड़न के कारण पहला अभ्यास मैच नहीं खेल सका था.’ उन्होंने कहा,‘पहली पारी में दुर्भाग्यशाली रहा क्योंकि मुझे लगता है कि मैं LBW आउट नहीं था. दूसरी पारी में लंबा खेलने के इरादे से ही उतरा था और नतीजा सामने है. पंत ने कहा कि गुलाबी गेंद से अभ्यास मैच खेलना जरूरी था. उन्होंने कहा ,‘गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया, बल्लेबाजों को अच्छा अभ्यास मिल गया. सभी का प्रदर्शन अच्छा रहा और यह अभ्यास काफी जरूरी था, क्योंकि दूधिया रोशनी में खेलना थोड़ा मुश्किल होता है.’

कोई टिप्पणी नहीं