INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

HATHRAS - हाथरस आरोपी से बातचीत के कॉल डिटेल्स मैं क्या बोला पीड़ित का परिवार। INA NEWS

INA NEWS -   रिपोर्ट  : नीलम माही  संवाददाता

 Hathras - हाथरस गैंग रेप कांड में हर रोज नए खुलासे होते जा रहे हैं  दावे किया जा रहा है एसआईटी की जांच में पता चला है कि आरोपी संदीप के फोन से पीड़ित के भाई की लगातार बात हो रही थी पिछले 6 महीने से 104 बार बातचीत हुई थी जिससे खुलासे पर पीड़ित के परिवार ने सफाई दी पीड़ित के भाई ने कहा कि सारा आरोप झूठा है  INA  से बातचीत करते हुए पीड़ित के भाई ने कहा कि जिस मोबाइल नंबर की बात की जा रही है वह हमारे ही है हम उसका इस्तेमाल कई सालों से कर रहे हैं यह नंबर घर पर रहता है 

दावा किया कि फोन रिकॉर्ड के आधार पर लगाए जा रहे हैं सारे आरोप झूठा है हम इस मामले में एसआईटी के सामने जवाब देंगे। पीड़ित के भाई ने कहा कि यह नंबर तो मेरा है और बहुत ही पुराना है घर पर रखा जाता है और यह जो इल्जाम लगाया जा रहा है कि प्रेम प्रसंग का यह सब झूठा है और यह झूठा आरोप लगाया जा रहा है 


आरोपी संदीप के फोन से पीड़ित के भाई की फोन पर लगातार बातचीत हुई थी अक्टूबर 2019 से मार्च 2020 तक दोनों के बीच 104 कॉल हुई जिसमें से 62 कॉल आरोपी संदीप के फोन पर आई जबकि 42 कॉल पीड़ित के भाई के फोन पर सूत्रों का दावा है कि पीड़ित के भाई का फोन उसकी पत्नी इस्तेमाल करती थी इसी फोन से पीड़ित और संदीप के बीच बातचीत का दावा किया जा रहा है पीड़ित के भाई का कहना है कि यह नंबर मेरा है और मैं बहुत दिनों से इस्तेमाल करता हूं और मेरा फोन घर पर रहता है मेरी पत्नी चलाती है यूपी पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि पीड़ित परिवार और आरोपी संदीप के बीच नियमित अंतराल पर बात हुई एसआईटी आज अपनी जांच रिपोर्ट 



एपी सिंह का दावा है कि पीड़ित की हत्या खुद उसके भाई ने की है वकील एपी सिंह का दावा है इस मामले का राजनीतिकरण किया जा रहा है आरोपियों को साजिद फसाया जा रहा है इसीलिए वह यह केस लड़ रहे हैं ए पी सिंह को छत्रिय महासभा ने हाथरस के में आरोपियों का पक्ष रखने के लिए नियुक्ति किया है यूपी सरकार ने दाखिल किया हलफनामा हसरत कांड में पीड़ित का अंतिम संस्कार आधी रात में किए जाने को लेकर योगी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल करा के सफाई दी है कि सुबह के वक्त भीड़ झुकने और तनाव फैलाने का अंदेशा था सरकार की ओर से कहा गया है कि अगले दिन बाबरी मामले का फैसला भी आना था और दंगा भड़काने की सूफिया जानकारी थी इसीलिए परिवार वालों इजाजत के बाद रात को ही अंतिम संस्कार कर दिया गया हालांकि परिवार दावा करता है कि अंतिम संस्कार जबरन करवाया गया था  

उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपनी पड़ताल में आया है कि पीड़ित परिवार और आरोपी संदीप फोन के जरिए आपस में संपर्क में थे पीड़ित परिवार और संदीप के बीच फोन पर बातचीत का सिलसिला पिछले साल अक्टूबर में शुरू हुआ परिवार और आरोपी के बीच 104 बार फोन पर बातचीत हुई ज्यादातर कॉल चंदपा क्षेत्र से ही कई गई है जो पीड़ित के गांव से मजह 2 किमी की दूरी पर है इसमें से 62 कॉल जो पीड़ित की ओर से की गई थी यूपी पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि पीड़ित परिवार और आरोपी संदीप के बीच नियमित

  पर बात हुई आरोपी संदीप को कॉल पीड़ित के भाई की ओर से की गई थी इस बीच स्पेशल एसआईटी की जांच जी अंतिम दौर में है एसआईटी अपनी रिपोर्ट बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंप सकती है गृह सचिव भगवान स्वरूप की अगुवाई में डीआईजी चंद्र प्रकाश और एसपी पूनम ने केस की जांच की है बता दे कि एसआईटी ने पिछले हफ्ते जांच शुरू की थी और 7 दिन में रिपोर्ट सौंपने की बात कही थी एसआईटी की टीम चांदपा के उस गांव में भी पहुंची थी जहां कि पीड़िता रहने वाली थी एसआईटी ने पीड़िता के परिवार वालों का बयान भी लिया।



कोई टिप्पणी नहीं