INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

कोरोना दुनिया में LIVE : अब तक 34 लाख संक्रमित और 2.39 लाख मौतें

  • अमेरिका में संक्रमण के सबसे ज्यादा 11 लाख 31 हजार केस, जबकि 65 हजार 766 लोगों की मौत हो हुई
  • अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा 28 हजार मौतें इटली में हुई हैं, यहां दो लाख सात हजार लोग संक्रमित हैं


वॉशिंगटन - दुनिया में कोरोना से 34 लाख 607 लोग संक्रमित हैं। दो लाख 39 हजार 586 जान जा चुकी है, जबकि 10 लाख 81 हजार 588 ठीक हो चुके हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को कहा कि देश में संक्रमण से कम से कम एक लाख लोगों की जान जा सकती है। उम्मीद है हम इसे इस आंकड़े तक नहीं पहुंचने देंगे। देश में अब तक 65 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोनावायरस : सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देश



अमेरिका: 24 घंटे में 1883 मौतें

जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक, अमेरिका में 24 घंटे में 1883 लोगों की मौत हुई है। यहां 11 लाख से ज्यादा संक्रमित हैं। यहां अकेले न्यूयॉर्क स्टेट (24,069) में स्पेन (24,824) और फ्रांस (24,594) के बराबर मौतें हुई हैं। वहीं, तीन लाख 15 हजार 222 संक्रमित हैं। ट्रम्प ने कहा कि वे चीन पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहे हैं। संक्रमण से निपटने में चीन नाकाम रहा है।


अमेरिकी राज्य डेलावेयर को खोले जाने के लिए प्रदर्शन करती ट्रम्प समर्थक महिला।
‘व्हाइट हाउस ने डॉ. फौसी को कोरोना पर बोलने से पहले ही रोका’

व्हाइट हाउस ने कोरोनावायरस टास्क फोर्स के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एंथनी फौसी को कोरोना को लेकर हाउस पैनल के सामने बोलने से रोक दिया। अमेरिकी संसद के विनियोग समिति के प्रवक्ता इवान हॉलैंडर ने ये जानकारी दी। सीएनएन न्यूज चैनल ने शुक्रवार को इवान के हवाले से कहा, "विनियोग समिति कोरोनावायरस प्रतिक्रिया पर अगले सप्ताह होने वाली लेबर-एचएच शिक्षा उप समिति की सुनवाई के दौरान डॉ. फौसी को एक गवाह के तौर पर बुलाया है।" एक अलग बयान में व्हाइट हाउस के उप प्रेस सचिव जूड डीरे ने कहा कि महामारी के खिलाफ चल रही लड़ाई से निपटने के दौरान कांग्रेस के सामने डॉ. फौसी की गवाही देने का परिणाम उल्टा होगा।

सुरक्षात्मक उपायों और अर्थव्यस्था को खोलने को लेकर अमेरिका में प्रदर्शन

अमेरिका में लेबर डे के दिन एक मई को अतिरिक्त सुरक्षा उपायों और कोरोना के कारण लागू लॉकडाउन के बाद अर्थव्यस्था को फिर से खोलने की मांग को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन हुए। इसमें सैकड़ों प्रदर्शनकारी शामिल थे। नेशनल नर्सेज यूनाइटेड (एनएनयू) की 15 हजार नर्सों ने देश के 13 राज्यों में आयोजित लगभग 140 रैलियों में हिस्सा लिया। प्रशासन से मास्क और अन्य सुरक्षात्मक उपकरण मुहैया कराने की मांग की। एनएनयू की कार्यकारी निदेशक बोनी कैस्टिलो ने ट्विटर पर लिखा, "जब नर्से सुरक्षित नहीं हैं, तो मरीज भी सुरक्षित नहीं हैं।" उन्होंने कहा कि नर्सें लोगों का उपचार करने के लिए तैयार हैं, लेकिन कोरोना की लड़ाई में खुद को बलिदान करने के लिए नहीं।

अमेरिका में इलाज के लिए रेमडेसिविर दवा को मंजूरी

अमेरिका के फूड एंड एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने महामारी के इलाज के लिए इबोला की दवा रेमडेसिविर के इस्तामल को आपातकालिन मंजूी दे दी। एफडीए प्रमुख स्टेफन हान ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की। ट्रम्प ने रेमडेसिविर के उपयोग को सही सोच करार दिया और कहा कि इससे बहुत उम्मीद है। इसे बनाने वाली कपनी गिलीड के कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) डेनियल ओ डे ने घोषणा की हमने लगभग 10.50 लाख रेमडेसिविर की शीशियां दान करने का फैसला लिया है।

अल्जीरिया: संक्रमण बढ़ता रहा, तो कड़े कदम उठाए जाएंगे: राष्ट्रपति

अल्जीरिया के राष्ट्रपति अब्देलमदजीद टेब्बौने कहा है कि देश में यदि वायरस का प्रसार जारी रहा, तो लॉकडाउन लगाया जा सकता है। साथ ही सभी बिजनेस बंद कराए जा सकते हैं। अब्देलमदजीद ने कहा, "सरकार ने व्यापारी संघ के अनुरोध पर आर्थिक संकट को कम करने के लिए व्यवसायों को फिर से खोलने की अनुमति दी है, लेकिन यदि इस फैसले से लोगों के जीवन को खतरा होता है, तो फिर से सब कुछ बंद किया जा सकता है। साथ औऱ कड़े कदम उठाए जा सकते हैं। अल्जीरिया के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि देश में 4151 लोग अब तक संक्रमित हुए हैं और 453 की मौत हुई है।

वेनेजुएला: संक्रमण के 335 मामले

वेनेजुएला में 24 घंटे के दौरान संक्रमण के दो नए मामले सामने आए हैं। संक्रमितों की संख्या 335 हो गई है। राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने शुक्रवार को बताया कि 148 रोगी स्वस्थ हो गए हैं जबकि 10 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो गई है। एक दिन पहले भी वेनेजुएला के अधिकारियों ने कोरोना के दो नए मामले दर्ज किए थे।

रूस: मास्को में अब तक 695 की मौत

रूस में अब तक 1,169 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में सबसे ज्यादा मॉस्क में 695 जान गई है। मॉस्को की कोरोनावायरस रिस्पॉन्स सेंटर ने शुक्रवार को ये जानकारी दी।

INA NEWS DESK

No comments