INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

यूपी की सभी नदियों में प्रवाहित की जाएंगी पूर्व पीएम अटल बिहारी की अस्थियां

लखनऊ - पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का शुक्रवार को दिल्ली के यमुना घाट के 'राष्ट्रीय स्मृति स्थल' पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। उनकी अस्थियों को प्रदेश के हर जिले की प्रमुख नदियों में प्रवाहित किया जाएगा। जिससे कि जनता को उनकी अंतिम यात्रा से जुड़ने का मौका मिल सके। ये आदेश शुक्रवार शाम योगी सरकार ने जारी किया।
यूपी सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि अस्थियों को आगरा में यमुना व चम्बल, इलाहाबाद में गंगा, यमुना व टोन्स (तम्सा), वाराणसी में गंगा, गोमती व वरुणा, लखनऊ में गोमती, गोरखपुर में घाघरा, राप्ती रोहिन, कुआनो व आमी, बलरामपुर में राप्ती, कानपुर नगर में गंगा, कानपुर देहात में यमुना, अलीगढ़ में गंगा व करवन, कासगंज में गंगा, अम्बेडकर नगर में घाघरा व टोन्स (तम्सा), अमेठी में सई व गोमती, अमरोहा में गंगा व सोत, औरैया में यमुना व सिंधु, आजमगढ़ में घाघरा व टोन्स (तम्सा), बदायूं में गंगा, रामगंगा व सोत, बागपत में यमुना, हिण्डन व काली नदी, बहराइच में सरयू, घाघरा, करनाली व सूहेली में प्रवाहित किया जाएगा।

इसके अलावा बलिया में गंगा, घाघरा गण्डक व टोन्स (तम्सा), बांदा में केन व यमुना, बाराबंकी में घाघरा व गोमती, बरेली में रामगंगा व अरिल, बस्ती में घाघरा, कूआनो व मनोरमा, बिजनौर में गंगा व रामगंगा, बुलन्दशहर व चन्दौली में गंगा, चित्रकूट में यमुना, देवरिया में गण्डक, घाघरा व राप्ती, एटा में इसान और इटावा में चम्बल व यमुना नदी में प्रवाहित किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं