INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

भूमि विवाद की जांच करने पहुँची सदर एसडीएम


गिरिडीह  - मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के लेदा में चल रहे भूमि विवाद की जांच करने आज सदर अनुमंडल की एसडीएम सुश्री विजया जाधव पहुंची। 

बता दें कि लेदा संकट मोचन मंदिर के पास एक ग़ैरमजूरवा खास जमीन की अवैध कब्जा को लेकर मुखिया की अगुवाई में ग्रामीणों द्वारा एक आवेदन दी गया था। बाद में यह स्थल मुखिया एवं कुछ ग्रामीण एवं गणेश महतो के बीच विवाद का स्थल बन गया है। 

आवेदन के बाद अंचल अधिकारी एवं थाना प्रभारी के द्वारा जांच भी किया गया था। जांचोंप्रान्त थाना प्रभारी द्वारा दोनों पक्षों के बीच धारा 107 के तहत अनुमंडल पदाधिकारी को मामला अग्रसारित किया गया था। और दोनों पक्षो को शांति पूर्वक रहने की हिदायत दी गयी थी। 

इसी बीच पुनः मामला बिगड़ने के कारण सदर एसडीएम सुश्री विजया जाधव ने स्थल पर पहुंच कर जांच किया। जांच के दौरान दोनों पक्षो के बीच काफी आरोप प्रत्यारोप चला। एसडीएम जांच के दौरान गणेश महतो से जमीन सम्बंधित दस्तावेज की जांच की। एसडीएम से कुछ ग्रामीणों समेत गणेश महतो ने मुखिया पति पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुखिया पति किसी भी कार्य करने के बदले मोती रकम की मांग रखता है और उनकी मांग पूरा नही करने पर अपने कुछ निजी लोगो द्वारा हंगामा करवाकर विवाद उत्पन्न करवाता रहता है। 

वही एक ग्रमीण ने मुखिया पति राजेश बर्मा पर पंचायत में चल रही योजनाओं अनियमितता बरतने का आरोप लगाया एवं मनरेगा योजनाओ में जेसीबी प्रयोग का फुटेज तथा घटिया शौचालय निर्माण के कारण निर्माण के एक माह में ही क्षतिग्रस्त हुए शौचालय की फोटो भी दिखाए। 

वही मुखिया कंचन देवी ने कहा कि सारे आरोप गलत है। पंचायत में हो रहे गलत कार्य एवं अवैध जमीन कब्जा के ऊपर अंकुश लगाने का प्रयास करता हु तो कुछ लोग निजी दुश्मनी के कारण झूठा मुकदमा कर एवं गलत सलत वीडियो एवं फोटो बना कर मुझे तथा मेरे पति को फंसाने तथा अधिकारियों के साथ साठ गांठ जनप्रतिनिधियों की आवाज को दबाने की साजिश की जारही है। 

एसडीएम ने कही कि जमीन विवाद सम्बधित आवेदन के आधार पर जांच की और गणेश महतो के द्वारा जमीन सम्बधित दस्तावेज भी दिखाया गया है। बिरोध कर रहे ग्रामीण के द्वारा दिए गए आवेदन के आधार जांच की जारही है। तब जांच पूर्ण होने तक शांति बनाए रखने का निर्देश दोनों पक्षो को दिया गया अगर इस बीच कोई लॉ एंड आर्डर का उलंघन करता है तो नामजदों को हिरासत में लेकर करवाई की जाएगी।



रिपोर्ट - राजेश राज, सवांददाता : गिरिडीह 


कोई टिप्पणी नहीं