INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

बुराड़ी में 11 लोगों की मौत मामले में नया खुलासा

नई दिल्ली - बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत के मामले में परिवार के आध्यात्मिक प्रवृति का होने की बातें सामने आ रही हैं। ऐसा लगता है कि परिवार किसी साधना में लगा हुआ था। पुलिस को मौके से दो रजिस्टर मिले हैं। इनमें से एक रजिस्टर में पूरे पेज पर लिखा हुआ है कि परमात्मा में लीन हो रहे हैं। वह बुरी चीजों को न देखना चाहते हैं और न ही सुनना चाहते हैं।

पुलिस अधिकारी शुरुआती जांच के बाद इसे खुदकुशी की घटना बता रहे हैं, हालांकि पोस्टमार्टम के बाद ही इसका खुलासा होगा। पुलिस यह भी देख रही है कि पीड़ित परिवार किस गुरु को मानता था। परिजनों को खुदकुशी के लिए उकसाया तो नहीं गया था।


अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जिस तरीके से परिवार के सदस्य लटके हुए थे, उस तरीके की बातें रजिस्टर में लिखी हुई हैं। उत्तरी जिले के एक अधिकारी ने बताया कि मौके से दो रजिस्टर मिले हैं। एक में एक पेज पूरा हिंदी में लिखा हुआ है। एक ही पेज में विस्तार से सारी बातें लिखी हुई हैं। इसमें लिखा हुआ है कि परमात्मा में लीन हो रहे हैं।  आंखें बंद कर रहे हैं, ताकि भारी व बुरी वस्तु को न देख सकें।

कानों में रुई इसलिए लगाई है, ताकि बुरी बातों को सुन न सकें। अपराध शाखा के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रजिस्टर में यह भी लिखा हुआ है कि कैसे मुंह पर टेप लगानी है। कैसे कानों में रुई लगानी है और कैसे-कैसे क्या करना है। मुंह पर रुमाल कैसे बांधना है।  इस रजिस्टर के आधार पर पुलिस अधिकारी इसे खुदकुशी की घटना बता रहे हैं।
अपराध शाखा के पुलिस अधिकारियों के अनुसार, शुरुआती जांच में यह बात सामने आ रही है कि यह परिवार किसी गुरु व विचारधारा को मानता था। जांच में और रजिस्टर में लिखी बातों को पढ़ने के बाद लग रहा है कि पूरा परिवार किसी साधना में लगा हुआ था। परिवार क्या साधना कर रहा था और किस तरह की साधना कर रहा था, ये बातें रविवार देर शाम तक पुलिस पूछताछ में सामने नहीं आई थीं।

पुलिस को मौके पर मिले पांच स्टूल
पुलिस को मौके से पांच स्टूल व एक कुर्सी मिली है। ऐसे में लग रहा है कि खुदकुशी या फांसी के फंदे पर लटकाने के लिए इनका इस्तेमाल किया गया है।  

कोई टिप्पणी नहीं