INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

खेल एवं लोक कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने मुख्यमंत्री जन कल्याण अनुदान योजना का शुभारंभ किया

शिवपुरी ब्यूरो गजेंद्र वर्मा 



 श्रीमती सिंधिया ने कहा कि पंजीकृत असंगठित श्रमिकों कोअगले माह से 200 रूपए फ्लेट रेट पर विद्युत उपलब्ध कराई जाएगी। जिसके तहत वे एक पंखा, बल्ब, टीव्ही चलाने के साथ मोबाइल चार्ज कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि ई-रिक्शा हाथ ठेला चलाने वालों को ई-लोडर हेतु अनुदान भी दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों एवं उनके परिवारों के सदस्यों को 2 लाख रूपए तक की नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था की गई है। स्वरोजगार हेतु अनुदान भी दिया जाएगा।


मुख्यमंत्री जनकल्याण अनुदान योजना के तहत पंजीकृत असंगठित श्रमिकों को उनके व्यवसाय के विस्तार हेतु उपकरण क्रय करने हेतु बैंक से ऋण प्रदाय किया जाएगा। ऋण का 10 प्रतिशत अथवा 5 हजार जो भी कम होगा अनुदान के रूप में दिया जाएगा। मुख्यमंत्री जनकल्याण(प्रसूति सहायता) योजना के तहत पंजीकृत महिला श्रमिक को गर्भावस्था के अंतिम तिमाही में प्रसवपूर्ण जांच कराने पर 4 हजार रूपए और प्रसव पश्चात पोष्टिक आहार के लिए 12 हजार रूपए की राशि प्रदाय की जाएगी।


मुख्यमंत्री जनकल्याण अनुगृह राशि भुगतान योजना के तहत पंजीकृत असंगठित श्रमिक की दुर्घटना में मृत्यु होने पर 4 लाख रूपए की राशि, सामान्य मृत्यु होने पर 2 लाख रूपए की राशि, दुर्घटना स्थाई अपंग होने पर 2 लाख तथा आंशिक स्थाई अपंग होने पर 1 लाख रूपए की राशि दी जाएगी। इन वर्गों के बच्चों को कक्षा 1 से लेकर पीएचडी तक की शिक्षा नि:शुल्क प्रदाय की जाएगी। व्यवसायिक पाठ्यक्रमों में प्रवेश हेतु तथा यूपीएससी, पीएससी और बैकिंग आदि प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए नि:शुल्क कोचिंग की सुविधा दी जाएगी।


श्रीमती सिंधिया ने कार्यक्रमों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 2022 तक आवास उपलब्ध कराए जाएगें इसी प्रकार उज्ज्वला योजना के तहत महिलाओं द्वारा चूल्हे पर खाना बनाने की परेशानी को महसूस करते हुए प्रधानमंत्री ने उज्ज्वला योजना शुरू की है। इस योजना से गैस कनेक्शन नि:शुल्क प्रदाय किए जा रहे है। अब महिलाओं को खाना बनाने में भी अधिक समय नहीं लगेगा।  कार्यक्रम खत्म होने के बाद जब मदद फाउंडेशन के लोग वहां पहुंचे और उन्होंने नहर की मांग करें तो यशोधरा राजे सिंधिया ने उनकी मांगों को ठुकरा दिया जब नहर की मांगों को ठुकराया तो मदद फाउंडेशन के प्रमुख सुरेश एडवोकेट ने कहा कि नहर की मांग के लिए भोपाल तक पैदल मार्च निकाला जाएगा  |

कोई टिप्पणी नहीं