INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

मुख्यमंत्री योगी ने गोरखपुर में जांची कोरोना बचाव की तैयारियां

गोरखपुर - गोरखपुर जिले में कोरोना से बचाव की तैयारियां जांचते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि रोजाना 10 हजार से अधिक लोगों की कोरोना जांच की जाए। बीआरडी मेडिकल कॉलेज के कोविड अस्पताल को सक्रिय किया जाए और आरएमआरसी में जल्द जीनोम सिक्वेसिंग मशीन लगाई जाए।

मुख्यमंत्री गुरुवार को जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए किए जा रहे उपायों की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिए कि कोविड जांच की संख्या बढ़ाकर रोजाना 10 हजार या उससे अधिक की जाए। उन्होंने कहा कि रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन तथा एयरपोर्ट पर निगरानी बढ़ाई जाए। निगरानी समितियों को क्रियाशील करते हुए संदिग्ध मरीजों की पहचान कराई जाए और उन्हें मेडिकल किट दी जाए। संबंधित की कोरोना जांच भी कराई जाए और आईसीसीसी (इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर) से उनकी निगरानी कराई जाए। 

आईसीसीसी के साथ छह एंबुलेस को जोड़ते हुए गंभीर मरीजों के इलाज की पूरी व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि स्वच्छता एवं सैनिटाइजेशन का कार्य भी प्रभावी रूप से किया जाए। साथ ही टेलीमेडिसिन को प्रोत्साहित किया जाए। टेलीमेडिसिन के नंबरों का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए।

टीकाकरण की गति बढ़ाएं, प्रधानों-पार्षदों से भी लें मदद

मुख्यमंत्री ने कोविड वैक्सीनेशन की जानकारी लेते हुए निर्देश दिया कि वैक्सीनेशन की गति को और तेज किया जाए। टीकाकरण में प्रधानों और पार्षदों का सहयोग लेते हुए बचे हुए लोगों की सूची लेकर उनका टीकाकरण कराया जाए। उन्होंने कहा कि हर विद्यालय में बूथ बनाकर युवाओं का तेजी से टीकाकरण किया  जाए। इसके साथ ही पब्लिक एड्रेस सिस्टम एवं डॉक्टरों आदि के सहयोग से लोगों में जागरूकता लाई जाए।  एम्स, मेडिकल कॉलेज एवं जिला प्रशासन आपस में समन्वय बनाकर कार्य करें। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, डीएम विजय किरन आनंद, सीडीओ इंद्रजीत सिंह, सीएमओ डॉ आशुतोष दूबे समेत जिले के कई आला अफसर मौजूद रहे।

मेले में कोविड प्रोटोकॉल का हो पालन: सीएम

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में मकर संक्रांति पर लगने वाले मेले की तैयारियों की भी समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिया कि मेले में कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन कराया जाय। मंदिर परिसर पालिथीन मुक्त बनाते हुए स्वच्छता और सैनिटाइजेशन पर सर्वाधिक ध्यान दिया जाए। मेला परिसर में मास्क का इस्तेमाल अनिवार्य हो।

मुख्यमंत्री गुरुवार को मंदिर में खिचड़ी मेले की तैयारी जांच रहे थे। बैठक में उन्होंने कहा कि मेला के साथ ही अन्य दिनों में लगने वाले ट्रैफिक जाम को लेकर विशेष इंतजाम करें। विश्वविद्यालय रोड पर प्राइवेट बसों को पार्किंग में खड़ा करें। रेलवे बस स्टेशन पर भी बसों को परिसर में अंदर खड़ा कराया जाए।

डीएम विजय किरन आनंद एवं नगर आयुक्त अविनाश कुमार ने मेला परिसर को लेकर की गई तैयारियों से अवगत कराया। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाथ को बताया कि मेला परिसर में फ्री वाईफाई सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। मंदिर में तीन स्थानों पर फ्री वाईफाई के लिए हॉटस्पाट लगाए जा रहे हैं। लोग हॉटस्पाट से तुरंत कनेक्ट हो सकते हैं। इसका कंट्रोल नगर निगम में बने आईटीएमएस के रूम से होगा।

No comments

Welome INA NEWS, Whattsup : 9012206374