INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

सीडीएस जनरल बिपिन रावत की हेलीकॉप्टर क्रैश में मौत, हादसे में उनकी पत्नी समेत 13 अन्य लोगों की भी मौत

  • उदय सिंह यादव, प्रधान संपादक - INA NEWS TV

तमिलनाडु : तमिलनाडु में कुन्नूर के करीब सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया जिसमें 11 लोगों की मौत की खबर है। इसमें सीडीएस जनरल बिपिन रावत व उनकी पत्नी समेत 14 लोग सवार थे। रक्षा मंत्री संसद में कल इस घटना पर पूरी जानकारी देंगे। 

देश के पहले सीडीएस बिपिन रावत नहीं रहे

सीडीएस रावत की हेलीकॉप्टर क्रैश में मौत हो गई है। हादसे में उनकी पत्नी समेत 13 अन्य लोगों की भी मौत हो गई है।

मुंबई में दरबार हॉल का उद्धाटन टला

महाराष्ट्र में नए दरबार हॉल का उद्घाटन समारोह, जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होने वाले थे, अप्रत्याशित परिस्थितियों के कारण रद्द कर दिया गया है। राज्यपाल भरत सिंह कोश्यारी ने बताया कि तमिलनाडु में हुए हेलीकॉप्टर हादसे के मद्देनजर यह फैसला किया गया है।


विंग कमांडर पृथ्वी सिंह चौहान थे पाायलट

विंग कमांडर पृथ्वी सिंह चौहान Mi-17V5 के पायलट थे, जो सीडीएस जनरल बिपिन रावत सहित 14 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। वह 109 हेलीकॉप्टर यूनिट के कमांडिंग ऑफिसर हैं।

उचित समय पर जानकारी साझा करेंगे: ठाकुर

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को कहा कि तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर हादसे की सूचना संबंधित मंत्रालय उचित समय पर साझा करेगा। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत से संबंधित हेलीकॉप्टर दुर्घटना के बारे में पूछे जाने पर ठाकुर ने संवाददाताओं से कहा कि दुर्घटना के बारे में पूरी जानकारी संबंधित मंत्रालय द्वारा उचित समय पर साझा की जाएगी। 

सुरक्षा पर कैबिनेट कमेटी की बैठक थोड़ी देर में

बताया जा रहा है कि शाम साढ़े छह बजे सुरक्षा पर कैबिनेट कमेटी की बैठक होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसकी अध्यक्षता करेंगे।

14 में से 13 की मौत की खबर

तमिलनाडु में सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना में शामिल 14 में से 13 लोगों की मौत की पुष्टि हो गई है। डीएनए जांच से होगी शवों की पहचान की जाएगी। वहीं, नीलगिरिस के कलेक्टर का कहना है कि हादसे में बचने वाला सख्श एक पुरूष है।

नरवणे ने रक्षा मंत्री को जानकारी दी
सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को तमिलनाडु में एक सैन्य हेलिकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने की घटना के बारे में जानकारी दी, जिसमें सीडीएस जनरल बिपिन रावत भी थे।

तमिलनाडु के सीएम भी रवाना

वहीं, तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन का कहना है कि वह सीडीएस बिपिन रावत को लेकर सैन्य हेलीकॉप्टर दुर्घटना स्थल पर जा रहे हैं। उनका कहना है कि उन्होंने स्थानीय प्रशासन को बचाव कार्यों में हर संभव मदद मुहैया कराने का निर्देश दिया है।

ममता ने बीच में ही छोड़ी मीटिंग

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जैसे ही पता चला कि सेना का एक हेलीकॉप्टर, जिसमें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत सवार थे, तमिलनाडु में दुर्घटनाग्रस्त हो गया है। उन्होंने प्रशासनिक समीक्षा बैठक बीच में ही समाप्त कर दी। उन्होंने कहा कि हमें दुखद समाचार मिला है। मैं स्तब्ध हूं। मेरे पास अपना दुख व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं हैं। मैं इस बैठक को समाप्त कर रही हूं।

घटनास्थल का वीडियो 
चाय बागान से घिरे इसी जगह पर हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ है। 
 
संसद में कल बयान देगी सरकार

सूत्रों के मुताबिक, हेलीकॉप्टर दुर्घटना पर सरकार कल संसद में बयान जारी करेगी। इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जनरल बिपिन रावत के घर पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि वह कल संसद में बयान देंगे। 
 
राजनाथ सिंह सीडीएस के घर पहुंचे

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सीडीएस बिपिन रावत के घर पहुंचे हैं। उन्होंने यहां सीडीएस की बेटी से मुलाकात की है। यहां से राजनाथ सिंह संसद भवन के लिए रवाना हो गए हैं।

हादसे के तीन संभावित कारण

एयर कमोडोर बीएस सिवाच (रिटायर्ड) के मुताबिक इस हादसे के तीन कारण हो सकते हैं.
  • खराब मौसम में हेलीकॉप्टर फंस गया हो। वजह, जहां पर यह हादसा हुआ है, वहां पहाड़ और जंगल, दोनों हैं। यदि वह हेलीकॉप्टर ज्यादा ऊंचाई पर है और एकाएक मौसम खराब हो जाए तो भी चॉपर का संतुलन बिगड़ सकता है।
  • तकनीकी खराबी भी हो सकती है। हालांकि, ये वीआईपी हेलीकॉप्टर था तो उसके लिए विशेष टीम काम करती है। दो पायलट इस हेलीकॉप्टर को उड़ाते हैं। एक इंजीनियर भी रहता है। प्रशिक्षित क्रू मेंबर होते हैं। इस चॉपर को उड़ाने के लिए पायलट को एक विशेष प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। इस हेलीकॉप्टर में बैकअप इंजन और ईंधन, दोनों की सुविधा रहती है। 
  • हो सकता है कि कोई बड़ा पक्षी इस हेलीकॉप्टर से टकरा गया हो। छोटा पक्षी यदि टकराता है, तो उससे हेलीकॉप्टर का संतुलन नहीं बिगड़ता। केवल बड़ा पक्षी ही इसे गिरा सकता है।
घटनास्थल से जो तस्वीरें मिली हैं, उनमें MI-17V5 हेलीकॉप्टर धूं-धूं कर जल रहा था। 


एयर कमोडोर बीएस सिवाच (रिटायर्ड) के अनुसार, ये बहुत बड़ी घटना है। यह बहुत भरोसेमंद और मॉडर्न तकनीक वाला हेलीकॉप्टर माना जाता है। इसे उड़ाने के लिए बहुत ही दक्ष पायलट/क्रू मेंबर का चयन होता है। इस हादसे के लिए खराब मौसम, तकनीकी फॉल्ट, बड़े पक्षी टकराना जैसे कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। 

हालांकि, अभी ये प्रारंभिक कारण हैं। विस्तृत जांच के बाद सही कारणों का पता लग सकेगा।

No comments

Welome INA NEWS, Whattsup : 9012206374