INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

छुड़ाया गया अगवा बच्चा, 4 करोड़ की फिरौती मांगने वाली महिला भी गिरफ्तार

गोंडा: पुलिस टीम को सरकार की ओर से 2 लाख का इनामपुलिस के साथ मुठभेड़ में दो बदमाशों को लगी गोली
यूपी के गोंडा से अगवा हुए एक व्यवसायी के पोते को पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है. इस घटना में 4 करोड़ रुपये की फिरौती मांगने वाली एक लड़की को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही इस पूरे घटनाक्रम में 4 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. अपहरण की वारदात सामने आने के कुछ ही घंटों बाद यूपी पुलिस ने इस मामले की गुत्थी को सुलझा लिया है. गिरफ्तारी से पहले पुलिस के साथ बदमाशों की मुठभेड़ की भी खबर है.

गिरफ्तार चारों अपराधियों का विवरण इस प्रकार है. पहले अपराधी का नाम सूरज पांडे है जो राजेंद्र पांडे का पुत्र है और शाहपुर थाना परसपुर, जनपद गोंडा का रहने वाला है. दूसरा अपराधी छवि पांडे है जो शाहपुर थाना परसपुर, जनपद गोंडा का निवासी है. तीसरे अपराधी का नाम उमेश यादव है जो रमाशंकर यादव का बेटा है और सकरोड़ा पूर्वी थाना करनैलगंज जनपद गोंडा का रहने वाला है. चौथा अपराधी दीपू कश्यप है जो राम नरेश कश्यप का बेटा है और सोनवारा, थाना करनैलगंज, जनपद गोंडा का निवासी है.
सकुशल रिहाई कराने वाली एसटीएफ की टीम को सरकार ने दो लाख का इनाम दिया है. मुठभेड़ में दो बदमाशों के पैर में गोली लगने की भी खबर है.

यूपी एडीजी (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने घटना के बारे में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पुलिस कार्रवाई में दो बदमाश उमेश यादव और दीपू कश्यप घायल हुए हैं. सूरज पांडेय, छवि पांडेय और उनके भाई को गिरफ्तार किया गया है. घटना में एक ऑल्टो गाड़ी बरामद की गई है. अपराधियों से पिस्टल और दो तमंचे भी बरामद हुए हैं. घायल बदमाशों का इलाज चल रहा है. पुलिस की ओर से बदमाशों का मेडिकल कराया जाएगा और आगे की कार्रवाई की जाएगी. जो अन्य लोग शामिल होंगे उनके विरुद्ध भी कार्रवाई होगी. शासन की ओर से स्थानीय पुलिस और एसटीएफ को 1-1 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की गई है. पुलिस पूरे इलाके में कॉम्बिंग ऑपरेशन चला रही है. इस घटना में शामिल सभी अपराधी गिरफ्तार हैं, मुख्य अपहरणकर्ता को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. इनमें एक महिला भी शामिल है जिसे गिरफ्तार किया गया है.

बता दें, बीते दिन गोंडा में एक व्यवसायी के बेटे का अपहरण कर लिया गया था. अपहरणकर्ता मास्क बांटने के बहाने आए थे, जिसके बाद उन्होंने कारोबारी के बेटे का अपहरण कर फिरौती की मांग की. घटना के बाद पुलिस प्रशासन और साथ में एसटीएफ तलाश में जुटी थी.

INA NEWS DESK


कोई टिप्पणी नहीं