INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

अफगानिस्तान दरगाह के गद्दी नशीन सैयद जरीफ चिस्ती पहुंचे दरगाह साबिर पाक


  • अफगानिस्तान दरगाह के गद्दी नशीन सैयद जरीफ चिस्ती पहुंचे दरगाह साबिर पाक, INA NEWS से की खास बातचीत

  • सैयद सिराज मेहंदी


DESK : सूफी संतों की सरजमी पिरान कलियर शरीफ में मखदूम अलाउद्दीन साबिर (र.आ.) 751 वर्ष मनाया जा रहा है जिसको लेकर प्रशासन ने तैयारियां चाक-चौबंद कर रखी है साबिर साहब के उर्स में देश विदेश से जायरीन आते हैं

इस बार अफगानिस्तान की दरगाह कुतुबुद्दीन मैदूदी चिश्ती के गद्दी नशीन सय्यद ज़रीफ़ चिश्ती पिरान कलियर शरीफ दरगाह साबिर साहब पर अपने जत्थे के साथ पहुंचे और आई एन ए न्यूज़ एजेंसी के संवाददाता सैयद शीराज़ मेहंदी से खास बातचीत करते हुए अफगानिस्तान की दरगाह कुतुबुद्दीन मैदूदी चिश्ती के सज्जादा नशीन साबिर साहब की शान में शेर अर्ज़ किया और हिंदुस्तान की जमकर तारीफ की

उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान अमन और अमान चैन सुकून भाईचारा और हिंदू मुस्लिम एकता का देश है गद्दी नशीन सय्यद जरीफ ने कहा कि हिंदुस्तान मेरा मुल्क नहीं है लेकिन यहां पर मेरे मुल्क से भी ज्यादा प्यार है उन्होंने बताया कि दरगाह पर दहशतगर्दी को खत्म करने के संदेश दिए जाते हैं साथ ही साथ कहा कि सूफी इज्म की सबसे बड़ी पहचान भाईचारे की एकता और अमन और चैन का संदेश आवाम तक पहुंचाना होता है साबिर साहब की दरगाह एक ऐसी दरगाह है जहां पर हिंदू मुस्लिम सिख शिया सुन्नी सभी धर्म के लोग अपनी-अपनी आस्था लेकर आते हैं और यहां से जो मुरादे में मानते हैं उनकी वह मुरादे पूरी होती हैं और दरगाहों पर आने से अकीदतमंदों को चैन और सुकून मिलता है । 

No comments