INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

मंदसौर गैंग रेप कांड, पीड़िता के पिता बोले, मुआवजा नहीं, दरिंदों को फांसी दो

मंदसौर - मंदसौर में दरिंदों की हैवानियत का शिकार हुई सात वर्षीय नाबालिग के पिता ने मध्य प्रदेश सरकार की पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद को ठुकरा दिया है। उन्होंने कहा कि मुझे मुआवजा नहीं चाहिए, मैं केवल दरिंदों को फांसी पर लटकते हुए देखना चाहता हूं। वहीं मंदसौर में आम लोगों का आक्रोश बरकरार है। लोग आरोपियों इरफान और आसिफ को फांसी देने की मांग कर रहे हैं। लोगों ने रविवार को दोनों आरोपियों के पुतले बनाकर उन्हें फांसी दी।
इस बीच पीड़िता बच्ची की हालत में सुधार हो रहा है। रविवार को उसका हेल्थ बुलेटिन जारी किया गया। अस्पताल प्रबंधन ने कहा कि इंफेक्शन नहीं हो, इसलिए माता-पिता और परिजनों के अलावा पीड़िता से कोई और नहीं मिल पाएगा। इस बारे में नेताओं और जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया गया है।

डॉक्टरों के अनुसार, पीड़िता होश में है और बात भी करती है। बता दें कि तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची बुधवार को स्कूल से करीब सात सौ मीटर दूर झाड़ियों में घायल अवस्था में मिली थी। फिलहाल दोनों आरोपी इरफान और आसिफ पुलिस रिमांड पर हैं। 

पीड़िता बच्ची के बयान का इंतजार : पुलिस
मंदसौर के एसपी मनोज सिंह ने कहा है कि अदालत में आरोप पत्र पेश करने से पहले पीड़िता के बयान की प्रतीक्षा की जा रही है। उन्होंने इस खबर को बेबुनियाद बताया है कि इस मामले में कोई तीसरा आरोपी भी था। उन्होंने आरोपियों के एचआईवी टेस्ट कराने की बात भी कही है। 

कोई टिप्पणी नहीं