INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

'मन की बात' में बोले PM मोदी, योग ने विश्व को किया एकजुट


नई दिल्ली -  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए देश के लोगों को संबोधित कर रहे हैं। पी
एम ने अपने संबोधन की शुरुआत बेंगलुरु में भारत और अफगानिस्तान के बीच हुए ऐतिहासिक क्रिकेट मैच से की। उन्होंने खेल की भावना की तारीफ की। बता दें कि ये मन की बात कार्यक्रम का 45वां संस्करण है।  

'मन की बातकार्यक्रम हर महीने के आखिरी रविवार को किया जाता है और इस कार्यक्रम के पीएम मोदी देश के विभिन्न मुद्दों पर अपनी राय जनता के सामने रखते हैं।



PM के संबोधन की मुख्य बातें

पीएम ने कहा, 'खेल समाज को एकजुट करने और हमारे युवाओं का जो कौशल है, उनमें जो प्रतिभा है, उसे खोज निकालने का एक बेहतरीन तरीका है।

- अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, 'चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का एक अलग ही नजारा देखने को मिला। पूरी दुनिया एकजुट नजर आई। विश्वभर में लोगों ने पूरे उत्साह के साथ योगाभ्यास किया। ब्रसेल्स में यूरोपियन संसद हो, न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय हो, जापानी नौसेना के लड़ाकू जहाज हों, सभी जगह लोग योग करते नजर आए। सऊदी अरब में पहली बार योग का ऐतिहासिक कार्यक्रम हुआ। वहीं, लद्दाख की ऊंची बर्फीली चोटियों पर भारत और चीन के सैनिकों ने एक-साथ मिलकर के योगाभ्यास किया।


'मन की बात' में बोले PM मोदी- देश सही दिशा में जाने के लिए हर पल अग्रसर है

-  PM मोदी ने संत कबीर का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने जात-पात का भेद मिटाया। उन्होंने कहा, 'संत कबीरदास जी ने अपनी साखियों और दोहों के माध्यम से सामाजिक समानता, शांति और भाईचारे पर बल दिया।

- वहीं, गुरुनानक देव जी का जिक्र करते हुए वे बोले, गुरु नानक देव ने समाज में जातिगत भेदभाव को खत्म करने और पूरे मानवजाति को एख मानते हुए उन्हें गले लगाने की शिक्षा दी। वे करते थे गरीबों और जरुरतमंदों की सेवा ही भगवान की सेवा है। उन्होंने ही लंगर व्यवस्था की शुरुआत की थी।


मन की बात में पीएम मोदी बोले, गरीबी, भ्रष्‍टाचार और जातिवाद भारत छोड़ो

बता दें कि 'मन की बात' का रेडियो के अलावा सभी न्यूज चैनल पर प्रसारण किया जाता है। रेडियो के अन्य स्टेशनों पर इसका स्थानीय भाषाओं में प्रसारण किया जाता है, जिसे पीएम की बातों को सारी जनता आसानी से समझ सके। कार्यक्रम आकाशवाणी और दूरदर्शन के समूचे नेटवर्क पर प्रसारित किया जाता है। प्रधानमंत्री कार्यालय, सूचना और प्रसारण मंत्रालय तथा दूरदर्शन समाचार के यू-ट्यूब चैनलों पर भी यह उपलब्‍ध होता है। पीएम के 'मन की बात' में आम जनता भी अपने विचार और सुझावों को साझा करती है। देशभर से लोग अपने विचार को पीएम को भेजते हैं। प्रधानमंत्री लोगों से सीधी संवाद स्थापित करते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं