INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

तिवारी ने दिया केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार के बयान पर करारा जवाब

अमेठी - कांग्रेस नेता प्रांजल तिवारी ने केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार द्वारा दिये गए उत्तर भारतीयों के बयान पर करारा जवाब दिया

प्रांजल तिवारी ने कहा कि उत्तर भारत आधुनिक भारत के इतिहास और राजनीति का केन्द्र बिन्दु रहा है और यहां के निवासियों ने भारत के स्वतन्त्रता संग्राम के आन्दोलन में प्रमुख भूमिका निभायी।

इलाहाबाद शहर प्रख्यात राष्ट्रवादी नेताओं जैसे मोतीलाल नेहरू, पुरुषोत्तम दास टन्डन और लालबहादुर शास्त्री का घर था। यह शहर देश के आठ प्रधान मन्त्रियों जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, लालबहादुर शास्त्री, चौ. चरण सिंह, विश्वनाथ प्रताप सिंह, चन्द्रशेखर, राजीव गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी का चुनाव क्षेत्र भी रहा है।

उत्तर प्रदेश एक आकर्षक पर्यटन स्‍थल है जहां दुनिया भर से ढे़रो पर्यटक घूमने आते हैं, क्‍योंकि इसे भारत का सार समझा जाता है। उत्तर प्रदेश में अनेक विचारक, दर्शन शास्‍त्री, कलाकार, नेता, नृत्‍य कला के प्रवीण, कवि, बौद्धिक जन और राजनेता हुए हैं,आगे उल्लेख में श्री तिवारी ने कहा कि साहित्य के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश का स्थान सर्वोपरि है। साहित्य और भारतीय सेना दो ऐसे क्षेत्र हैं जिनमें उत्तर प्रदेश के निवासी गर्व करते हैं। आदि कवी वाल्मीकि, तुलसीदास, कबीरदास, सूरदास से लेकर भारतेंदु हरिश्चंद्र, आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी, प्रेमचंद, जयशंकर प्रसाद, सुर्यकांत त्रिपाठी निराला, हरिवंश राय बच्चन, महादेवी वर्मा, मासूम राजा, सच्चीदानंद अज्ञये जैसे इतने महान कवि और लेखक यहां पैदा हुए हैं।

उर्दू साहित्य में भी बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान रहा है उत्तर प्रदेश का, फिराक, जोश मलीहाबादी, चकबस्त जैसे अनगिनत शायर उत्तर प्रदेश ही नहीं वरन देश की शान रहे हैं।
पारंपरिक शास्त्रीय नृत्य में भी इस प्रदेश का अहम स्थान है। कत्थक उत्तर प्रदेश का शास्त्रीय नृत्य है जो कि हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत के साथ किया जाता है। कत्थक नृत्य के प्रमुख कलाकार पन्डित बिरजू महाराज यूपी के ही रहने वाले हैं।

प्रांजल तिवारी ने केंद्रीय मंत्री के दिये गए बयान की कड़ी से कड़ी निंदा की है और उन्होंने कहा कि आपको अपने मातृभूमि पर ऐसी टिप्पणी करते हुये शर्म आनी चाहिए, श्री तिवारी ने केंद्रीय मंत्री को सार्वजनिक रूप से माफी मांग कर अपने शब्द लेने की बात कही है।

INA NEWS DESK

No comments