INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

असम और बिहार में बाढ़ से स्थिति भयावह, 37 लाख लोग हुए प्रभावित

असम - असम और बिहार में बाढ़ से स्थिति काफी गंभीर बनी हुई है और करीब 37 लाख की आबादी इसकी वजह से प्रभावित हुई है। असम में बाढ़ के कारण तीन और लोगों की मौत की खबर है। जानकारी के अनुसार, असम के 33 जिलों में 27 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।

बारपेटा, कोकराझार और मोरिगांव जैसे इलाकों में बाढ़ की वजह से मौत होने की घटनाएं सामने आई हैं। भूस्खलन के कारण भी राज्य में इस साल अभी तक करीब 122 लोगों की मौत हो चुकी है। उधर, बिहार में भी कमोबेश ऐसे ही हालात बने हुए हैं।

यहां करीब दस लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। गंडक नदी का तटबंध तीन स्थानों पर टूट जाने से कई इलके पानी में डूब गए हैं। हालांकि यहां अभी तक इससे किसी जनहानि की सूचना नहीं है। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक 10 जिलों में 74 प्रखंडों की 529 पंचायतों में 9.60 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।
अरुणाचल प्रदेश में भी मूसलाधार बारिश की वजह से कई जिलों का संपर्क कट गया और बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई। इस बीच भूस्खलन से पश्चिम सियांग जिले में संपर्क कट गया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने असम में आई बाढ़ को लेकर वहां के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात की है और राज्य के हालात की जानकारी लेकर एकजुटता प्रकट की है।

उन्होंने शुक्रवार को राष्ट्रपति भवन से असम, बिहार और उत्तरप्रदेश के बाढ़ और कोविड-19 से प्रभावित लोगों के लिए रेड क्रॉस की राहत सामग्री ले जा रहे नौ ट्रकों को रवाना भी किया। वहीं मौसम विभाग ने बताया कि उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, उत्तरप्रदेश और बिहार में 26-28 जुलाई के बीच और पंजाब तथा हरियाणा में 27 से 29 जुलाई के बीच भारी बारिश का अनुमान है।

बिहार में पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज और खगड़िया बाढ़ से प्रभावित है। मौसम विभाग ने कहा है आगामी सोमवार, मंगलवार और बुधवार को दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत में बारिश हो सकती है।

कोई टिप्पणी नहीं