INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

कल से 15 शहरों के लिए चलेंगी 30 एसी ट्रेनें - INA NEWS

INA DELHI - लॉकडाउन की वजह से देशभर में फंसे लोगों के लिए अच्छी खबर है। 22 मार्च से बंद ट्रेनों को रेलवे 12 मई से आंशिक रूप से बहाल करने जा रहा है। विशेष सुविधा के तहत 30 राजधानी ट्रेन (15 जोड़ी) चलेंगी। देशभर के पंद्रह स्टेशनों के लिए कुछ स्टॉपेज के साथ चुनिंदा ट्रेनें चलाने की तैयारी कर ली है। सभी ट्रेनें वातानुकूलित होंगी। टिकट आरक्षण सोमवार शाम 4 बजे से सिर्फ आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर ही शुरू होगा।

यात्रा किराया राजधानी एक्सप्रेस के बराबर होगा। डायनेमिक फेयर भी लागू किया जा सकता है। कन्फर्म टिकट पर यात्रा हो सकेगी। तत्काल टिकट नहीं मिलेंगे। बुकिंग काउंटर बंद रहेंगे। ट्रेनों में पैंट्री नहीं होगी। नमकीन, बिस्किट जैसी सामग्री होंगी, जिन्हें यात्री खरीद सकेंगे। इन 15 रूटों पर ट्रेन शुरू होने के बाद रेलवे कुछ और रूटों पर विशेष ट्रेन चलाएगा। गौरतलब है कि 25 मार्च से सभी यात्री ट्रेन सेवा बंद कर दी गई थीं।
स्टेशन कैसे पहुंचेंगे और घर कैसे जाएंगे, अभी साफ नहीं

सरकार ने अभी यह साफ नहीं किया है कि ट्रेनों में जाने वाले यात्री रेलवे स्टेशन तक कैसे पहुंचेंगे। क्योंकि, ज्यादातर राज्यों की राजधानियों में टैक्सी-रिक्शा सेवा अभी बहाल नहीं हुई हैं। वहीं, ट्रेनों के शेड्यूल सोमवार को जारी होंगे। अभी सिर्फ यही बताया गया है कि यात्री को एक घंटे पहले पहुंचना होगा और स्क्रीनिंग से गुजरना होगा।

'हमसे राय नहीं ली गई'
आईसीएमआर और स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अफसर ने कहा कि ट्रेन चलाने को लेकर रेलवे ने राय नहीं ली। हालांकि, उन्होंने कहा कि कमरे और वर्कप्लेस में एसी चलाने के लिए तापमान 24 से 30 डिग्री, आद्रता 40 से 70 की बीच रखनी जरूरी है। साथ ही बाहर से साफ हवा आने की व्यवस्था एग्जॉस्ट/फैन फिल्टर के माध्यम से होनी चाहिए।

वेटिंग पर सफर नहीं
इन ट्रेनाें के टिकट की बुकिंग स्टेशन काउंटर से नहीं होगी। आईआरसीटीसी की वेबसाइट से ही टिकट बुक हो सकेगा। सिर्फ आरक्षित टिकट वाले ही यात्रा कर सकेंगे। तत्काल कोटा नहीं होगा। किसी तरह की छूट भी नहीं मिलेगी। प्लेटफार्म पर वे ही प्रवेश कर पाएंगे जिनके पास कन्फर्म टिकट होगा।

मास्क के बिना प्रवेश नहीं
फेस मास्क पहने बगैर प्लेटफार्म पर यात्रियों को प्रवेश नहीं मिलेगा। थर्मल स्कैनर से चेकिंग के बाद ही यात्रा की इजाजत दी जाएगी। किसी तरह का लक्षण पाए जाने पर यात्रा नहीं कर पाएंगे।

प्रवासी कामगारों के लिए रोज 300 ट्रेनें चलाने को तैयार
रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे रोज 300 ट्रेनें चलाकर प्रवासी कामगारों को घर पहुंचाने को तैयार है। गोयल ने ट्वीट किया, मैं सभी राज्यों से अपील करता हूं कि वे अपने लोगों को वापस लाने की अनुमति दें ताकि 3-4 दिन में उन्हें घर पहुंचाया जा सके।

नई दिल्ली से जुड़ेंगे ये स्टेशन
डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, विलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बंगलूरू, चेन्नई, तिरुअनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मूतवी। वापसी में भी ये ट्रेनें कुछ स्टॉपेज के साथ नई दिल्ली आएंगी।

INA NEWS DESK

No comments