INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

जिले में सोसायटी खरीद केन्द्रों पर भ्रष्टाचार चरमसीमा पर

गजेन्द्र वर्मा

शिवपुरी जिले में सोसायटी खरीदी केंद्र पर भ्रष्टाचार चरम सीमा पर जिले के किसान प्रशासन  शान की मुंह की तरफ ताकते  किसान सोच रहे हैं कि अब तो भ्रष्टाचार बंद हो जाएगा शिवपुरी केंद्र के सभी खरीदी केंद्रों पर लगभग भ्रष्टाचार  हैं शासन की तरफ आस लगाते किसान
हर खरीदी केंद्र  पर 1000  से लेकर ₹10000 तक किसानों से वसूला जा रहा है पैसा नहीं देने पर फसल को रिजेक्ट कर देते हैं जब दोबारा में किसान हाथ पैर जोड़ते हैं तो उनसे पैसे की डिमांड रखी जाती है पैसा  लेने के बाद वही फसल ले ली जाती है शिवपुरी जिले के किसान प्रशासन से गुहार लगाई जाती है लेकिन सुनवाई नही होती है इन वेचारे किसानो का सहारा तो सिर्फ ईश्वर ही है
जिले के किसान इन विभागों से है ज्यादा परेशान
जैसे कि आपको पता होगा
1   किसी भी बैंक द्वारा केसीसी बनवाने पर 10% देना अनिवार्य है ऐसा बैंकों का नियम बना रखा है
2 बिजली विभाग में लाइनमैन से लेकर अन्य बिजली कर्मचारी भी किसानों को अछूता नहीं छोड़ते हैं
3  जिले में अति दुखदाई है तो पटवारी वह शासकीय जमीन पर हो रहे कब्जे की रिपोर्ट अधिकारियों को नहीं देते और मिलीभगत होने के कारण कब्जा स्वयं पटवारी ही करवाते हैं
सन 2003 में शासकीय जमीन जिले में लगभग कितनी थी धरातल पर और आज दिनांक में देखने को आपको एक बटे चार हिस्सा गायब मिलेगा
जमीनों के सिलसिले में रजिस्टर ऑफिस भी पीछे नहीं

No comments