INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

राम मंदिर की प्राथमिकता को दरकिनार करने पर रंज जताया

जालौन


उरई। उत्तर प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक होमगार्ड डॉ सूर्यकुमार शुक्ला ने राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के रवैये को ले कर आक्रोश जताया है । उन्होने कहा कि बिलंब न्याय को अर्थहीन बना देता है तो भी सुप्रीम कोर्ट ने कह दिया कि राम मंदिर उसकी प्राथमिकता में नहीं है जबकि 70 वर्षों से यह मुक़दमा चल रहा है । उन्होने कहा कि राम मंदिर के लिए अभी तक 2 हजार लोग बलिदान दे चुके हैं । करोड़ों लोगों की संवेदनाएं इससे जुड़ी हैं । सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस  मुद्दे को दरकिनार करना करना सही नहीं कहा जा सकता ।

रविवार को युवा आदर्श समाज कल्याण समिति के तत्वावधान में  कोंच रोड स्थित एस एस डिग्री कालेज में आयोजित दधीचि समान समारोह को संबोधित करते सेवानिवृत आईपीएस अधिकारी डॉ सूर्यकुमार शुक्ल ने कहा कि नौकरशाही भ्रष्ट हो चुकी है , जिसे सुधारने के लिए बड़ी सर्जरी की जरूरत है । उन्होने कहा कि अधिकारियों की तुलना में जन प्रतिनिधियों पर ज्यादा भरोसा किया जाना चाहिये क्योंकि उन्हे हर चुनाव में लोगों के बीच अनुमोदन लेने के लिए जाना पड़ता है जिससे वे एक सीमा से अधिक निरंकुश नहीं हो सकते ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता एसएस डिग्री कालेज के अध्यक्ष शरद शर्मा , संचालन अरविंद गौतम चच्चू ने किया । इस अवसर पर पूर्व एस डी एम्  बाबूराम नामदेव जनतादल यू के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुरेश निरंजन भैया जी ,  अपर जिलाधिकारी प्रमिलकुमार सिंह , अपर पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र नाथ तिवारी , सिटी मजिस्ट्रेट जेपी सिंह , वरिष्ठ पत्रकार अनिल शर्मा ,  रमाकांत शर्मा ,  समाजसेवी शैलेन्द्र चौहान दिल्ली आदि ने भी विचार प्रकट किए
कार्यक्रम में समाज की विभूतियों के रूप में पहचाने जाने वाले 100 महानुभावों को शाल ओढ़ा कर और प्रशस्ति पत्र दे कर सम्मानित किया गया यज्ञदत्त त्रिपाठी ,  प्रयाग नारायण त्रिपाठी , सत्यपाल शर्मा , साहब सिंह चौहान आदि मुख्य रूप से शामिल थे ।




सुरेन्द्र राजावत जिला ब्यूरो जालौन

No comments