INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

किसानों को ठग लेगी कांग्रेस?

हाल ही में आए पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजों ने राहुल गाँधी और कांग्रेस पार्टी को फिर से पटरी पर ला दिया है. 2014 के बाद चुनावों में लगातार बीजेपी से पिछड़ने के बाद इन चुनाव नतीजों ने बहुत दिनों बाद कांग्रेस के नेतृत्व को खुश होने की वजह दी. हालांकि जिन तीन राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनी उनमें से मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी 15 साल से सत्ता में थी और कांग्रेस को एंटी इनकम्बेंसी का भी बड़ा फायदा मिला और तीसरे राज्य राजस्थान के बारे में कहा जाता है कि वहाँ सरकार हर पाँच साल बाद बदल जाती है लेकिन इस सब के बावजूद इतनी बड़ी जीत 2019 से पहले जरूर कांग्रेस के लिए संजीवनी की तरह है तीन राज्यों में जीत से, लगातार हार की वजह से आलोचकों के निशाने पर रहे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने लोकसभा चुनाव से पहले खुद को मजबूत बना लिया है.




इन राज्यों में चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गाँधी और कांग्रेस ने राफैल, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, विजय माल्या के जरिए बीजेपी को जमकर घेरा तो चुनावी वादों का पिटारा भी खोल के रखा. इस दौरान राहुल ने जिस बात पर सबसे ज्यादा वोट माँगे वो थी 10 दिनों में किसानों की कर्ज माफी. चुनावी नतीजों में राहुल के इन वादों का असर भी दिखा और कांग्रेस ने शानदार तरीके से बीजेपी को पटखनी दी.

अब किसानों की कर्ज माफी से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है किसानों के लिए जो ख़बर आ रही है वो किसानों की मुश्किलों को बढ़ाने वाली हो सकती है सूत्रों की मानें तो राहुल गाँधी ने किसानों की कर्ज माफी का मन तो बना लिया है लेकिन उन किसानों को इससे कोई राहत मिलने की उम्मीद नहीं है जिन्होंने कृषि उपकरण और अन्य व्यवस्थाओं के लिए कर्ज लिया हुआ है मीडिया ख़बरों की माने तो केवल खेतों के लिए गए कर्ज को माफ किया जाएगा.



इसके अलावा ये भी खबरें हैं कि केवल 2 लाख तक के कर्ज को माफ किया जाएगा और सबसे पहले उन किसानों के कर्ज को माफ किया जाएगा जिन्होंने ये कर्ज सहकारी बैंक से लिया हुआ है अगर ये ख़बरे सही साबित होती हैं तो यकीनन किसानों के लिए उतनी राहत मिलने की उम्मीद नहीं है जिनकी किसानों को अपेक्षा थी. लेकिन अगर 2 लाख तक का कर्ज भी माफ किया जाता है तो भी बड़ी संख्या में किसानों को इससे फायदा मिलेगा क्योंकि किसानों का बड़ा वर्ग जो कर्ज लेता है वो ज्यादातर 2 लाख के दायरे में ही होता है.

No comments