INA NEWS

ads header

ताज़ा खबर

किसानों को वितरित हुआ 13 हजार 105 मैट्रिक टन यूरिया

शिवपुरी,  जिले में रवी सीजन हेतु अभीतक 13 हजार 105 मेट्रिक टन यूरिया का वितरण किसानों को किया जा चुका है। जिसमें सहकारिता के माध्यम से 6 हजार 918 मेट्रिक टन और निजी विक्रेताओं के माध्यम से 6 हजार 187 मेट्रिक टन यूरिया शामिल है। जो किसान भाईयों को सहकारी संस्थाओं एवं निजी थोक उर्वरक विक्रेताओं के माध्यम से उर्वरक का वितरित किया गया है। 

जिले के किसानों को रवी सीजन में यूरिया लेने में किसी प्रकार की परेशानी न हो, इसके लिए जिले में एनएफएल कंपनी द्वारा कुल 2039 मेट्रिक टन यूरिया आवंटित किया गया है। जिसमें शासकीय संस्थाओं को 900 मेट्रिक टन एवं निजी उर्वरक विक्रेताओं को 1139 मेट्रिक टन यूरिया शामिल है। 
उपसंचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास श्री आर.एस.शाक्यवार ने बताया किसोमवार को जिले में यूरिया की आईपीएल कंपनी की रेक प्राप्त होने वाली है। जिससे किसान भाईयों को पर्याप्त मात्रा में मांग के अनुसार यूरिया उर्वरक शासकीय एवं निजी उर्वरक विक्रेताओं से आसानी से सुलभ हो सकेगा।  
उपसंचालक ने बताया कि जिले में शासकीय संस्थाओं के तहत डबल लॉक शिवपुरी में 150 मै.टन, बैराड़ में 100 मै.टन, कोलारस में 200 मै.टन, बदरवास में 50 मै.टन, पिछोर में 200 मै.टन, करैरा में 200 मै.टन आवंटित किया गया है। जिसका भण्डारण सेवा सहकारी संस्था शिवपुरी एवं बलोकलां में 36-36 मै.टन, सतनवाड़ा में 18 मै.टन, मगरौनी में 18 मै.टन, कोलारस में 36 मै.टन, 36 मै.टन, बेहटा में 20 मै.टन, भडौता में 20 मै.टन, देहरदा गणेश में 20 मै.टन, पुलवारा में 20 मै.टन, लुकवासा में 20 मै.टन, खनियांधाना में 20 मै.टन, बामौरकलां में 20 मै.टन, खोड़ में 20 मै.टन, राजापुर में 20 मै.टन भण्डारण किया गया है। उन्होंने बताया कि जिले के निजी थोक उर्वरक विक्रेताओं में छाजेड़ बंधु शिवपुरी में 250 मेट्रिक टन, बिनोद ट्रेडिंग के पास 190 मै.टन, जनता एग्रो एजेंसी शिवपुरी में 220 मै.टन, रामसेवक सीताराम गेढा करैरा में 90 मै.टन, पहाड़ियां इंटर प्राइजेज पिछोर में 175 मै.टन, गुप्ता खाद भण्डार बामौलकलां खनियांधाना में 45 मै.टन और जगन्नाथ मदनलाल निजी थोक विक्रेता के पास 72 मैट्रिक टन यूरिया आवंटित किया गया है। जिसका वितरण निजी फुटकर विक्रेताओं के माध्यम से किया जा रहा है। 
उल्लेखनीय है कि शिवपुरी जिले में इस वर्ष रवी फसल सीजन के तहत 1 लाख 64 हजार हेक्टर क्षेत्र में गेहूं की फसल की बोनी होगी। जबकि गत वर्ष रवी फसल सीजन में 71 हजार 480 हेक्टेयर क्षेत्र में गेहूं की बोनी की गई थी। 

No comments