मीडिया जगत लाइफस्टाइल

साल के आखिरी दिन भीड़ से व्यवस्थाएं ध्वस्त

आगरा  –  साल के आखिरी दिन ताज पर सैलानियों का सैलाब उमड़ पड़ा। रविवार को शाहजहां और मुमताज की कब्र बंद होने के बाद भी 70 हजार से ज्यादा पर्यटकों ने ताज देखा। नए साल के आगाज पर भी देसी-विदेशी सैलानी बड़ी संख्या में ताज का दीदार करने पहुंचेंगे। ऐसे में अगले तीन दिन पुरातत्व विभाग और सीआईएसएफ समेत अन्य एजेंसियों को भीड़ को संभालने की चुनौती होगी।

रविवार को मुख्य कब्रों के बंद होने की जानकारी पर भी सुबह से ही सैलानियों की भीड़ का पहुंचना शुरू हो गया था। दोपहर तक ही शिल्पग्राम की पार्किंग में गाड़ियां खड़ी कराने के बाद भी पर्यटकों को आगरा किले के रोड पर गाड़ियां खड़ी करनी पड़ीं। दोपहर तीन बजे से पर्यटकों की भीड़ टिकट की लाइनों में बढ़ना शुरू हो गई। शाम पांच बजे तक तीनों गेटों पर लंबी लाइनें लग चुकी थीं।

शाम साढ़े पांच बजे तक तकरीबन 70 हजार पर्यटकों ने ताज देखा। इनमें बड़ी संख्या में 15 साल से अधिक आयु के पर्यटक भी शामिल हैं, जिनका टिकट नहीं लिया जाता है। नये साल की शुरुआत करने के लिए सोमवार को बड़ी संख्या में पर्यटक ताज पर पहुंचेंगे। ऐसे में ताज पर व्यवस्थाएं संभालने वालों को आने वाले दिनों में और चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा।

ताजमहल पर मुख्य मकबरे पर स्थित शाहजहां और मुमताज की कब्रों को शाम को खोले जाने के बाद तीनों गेटों पर पर्यटकों की लंबी कतारें लग गईं। सूर्यास्त होने पर पर्यटकों का दबाव इतना बढ़ा कि पश्चिमी और पूर्वी गेटों पर सुरक्षाकर्मियों के पसीने छूट गए।

जब सुरक्षाकर्मियों ने पर्यटकों को रोका तो उन्होंने जबरन घुसने की कोशिश की। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने कई पर्यटकों को धक्के मारकर बाहर निकाला। कई पर्यटकों के साथ मारपीट कर डाली।

About the author

INA NEWS

"भारत एक लोकतांत्रिक देश है। जिसमें हर व्यक्ति को अपने विचारों और सुझावों को रखने का पूर्ण मौलिक अधिकार है लोकतंत्र के चार स्तंभों में से एक स्तंभ पत्रकारिता का भी है, जिसका स्वर्णिम इतिहास रहा है और देश के सामाजिक व आर्थिक विकास एवम् प्रभाव के लिए पत्रकारिता की अहम भूमिका रही है।" - - उदय सिंह यादव, एडिटर-इन-चीफ, INA NEWS, INA NEWS TV, INA NEWS AGENCY

Add Comment

Click here to post a comment