#
18 प्लस

कॉलेज न जाने वाली लड़कियों पर ज्यादा होता है यौन हमला: सर्वे

#

अमेरिका  –  जो लड़की कॉलेज नहीं जाती हैं, उनके साथ जबरन सेक्स का खतरा अधिक रहता है. अमेरिका की मिशिगन यूनिवर्सिटी की एक स्टडी में यह बात कही गई है. इसमें यह भी सामने आया है कि हर 4 में से एक महिला 44 साल तक की उम्र में जबरन सेक्स का सामना करती है. आइए जानते हैं इससे जुड़ी और भी बातें.

स्टडी में यूएस नेशनल सर्वे ऑफ फैमिली ग्रोथ के आंकड़े इस्तेमाल किए गए थे. इस सर्वे में 5000 अमेरिकी महिला और पुरुषों से सवाल पूछे गए थे. इसमें एक सवाल ये भी था कि क्या कभी आपको जबरन सेक्स करना पड़ा है

प्रोफेसर और रिसर्चर विलियम एजिन ने कहा है कि जो महिलाएं कॉलेज कभी नहीं जाती हैं उनके साथ जबरन सेक्स का चांस 2.5 गुना अधिक होता है

प्रोफेसर ने कहा कि जब उन्होंने कैंपस के भीतर सेक्शुअल हिंसा को काफी अधिक पाया तो उन्होंने सोचा कि बाहर यह कितना अधिक होगा? इसके बाद उन्होंने इस स्टडी को किया जिसमें यह पता लगाया जा सके कि कॉलेज कभी नहीं जाने वाली लड़कियों को सेक्शुअल हिंस का खतरा कितना रहता है

प्रोफेसर के मुताबिक, नशा एक समान्य परिस्थिति है जब सेक्शुअल हिंसा होती है जबकि मौखिक तौर से दबाव डालकर और दुर्व्यवहार करके भी ऐसा किया जाता है.

2015 में इसी यूनिवर्सिटी ने कैंपस के भीतर की स्थिति को समझने के लिए स्टडी की थी. इसमें सामने आया था कि 20 फीसदी छात्राओं ने बिना सहमति के सेक्शुअल बिहैवियर का सामना किया. 12 फीसदी छात्राओं ने यह भी कहा था कि बिना सहमति के उन्हें सेक्स करना पड़ा

#

About the author

INA NEWS

भारत एक लोकतांत्रिक देश है। जिसमें हर व्यक्ति को अपने विचारों और सुझावों को रखने का पूर्ण मौलिक अधिकार है लोकतंत्र के चार स्तंभों में से एक स्तंभ पत्रकारिता का भी है, जिसका स्वर्णिम इतिहास रहा है और देश के सामाजिक व आर्थिक विकास एवम् प्रभाव के लिए पत्रकारिता की अहम भूमिका रही है। - - उदय सिंह यादव, एडिटर-इन-चीफ, INA NEWS, INA NEWS AGENCY, INA TV, INA LIVE,

Add Comment

Click here to post a comment