#
टेक्नोलॉजी देश

फुटबालर से आतंकी बने माजिद को सुरक्षा और खुफिया एजेंसी ने कराई घर वापसी

#

नई दिल्ली –  एक पखवाड़े पहले शायद आपने भी फुटबालर से आतंकी बने माजिद खान की मां का रोता कलपता और बेटे को वापस आने की अपील करता हुआ वीडियो देखा होगा। उसके बाद ही महज नौ दिनों तक आतंकियों के साथ रहने के बाद माजिद घर लौट आया था। कुछ अंदाजा है कि वाट्सएप और फेसबुक पर वायरल हुए इस वीडियो के पीछे बड़ा हाथ किसका था.. हमारी सुरक्षा और खुफिया एजेंसी। दरअसल आतंकियों के खिलाफ सोशल मीडिया अब भारतीय एजेंसी का नया और प्रभावी हथियार हो गया है।

दरअसल, आतंकी बुरहान वानी ने सोशल मीडिया को हथियार के रूप में इस्तेमाल करना शुरू कर दिया। वाट्सएप और फेसबुक जैसे प्लेटफार्म पर हथियार लिए तस्वीरों के सहारे वह आतंकियों को हीरो के रूप में पेश करता था। इससे प्रभावित होकर कश्मीर के युवा बड़ी संख्या में आतंकी बनने लगे थे। यही नहीं, आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने से सुरक्षा बलों को रोकने के लिए भी सोशल मीडिया का सहारा लिया जाने लगा था। पाकिस्तान से हैंडल वाट्सएप ग्रुप में लोगों को मुठभेड़ की जगह पहुंचकर पत्थरबाजी करने के लिए उकसाया जाता और काफी हद तक वे इसमें कामयाब भी होने लगे थे।

सोशल मीडिया पर आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने का काम सबसे पहले बारामूला पुलिस ने शुरू किया। आज हालत यह है कि बारामूला पुलिस का एक सामान्य सा भी ट्वीट या वाट्सएप भी 60 हजार से एक लाख लोगों तक पहुंच जाता है। जम्मू-कश्मीर पुलिस का आफिसियल 13 ट्विटर एकाउंट और 189 फेसबुक एकाउंट है।

खुद पुलिस महानिदेशक एसपी वैद आतंकी गतिविधियों के बारे में लगातार ट्वीट करते हैं। इसके साथ ही सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को भी ट्वीट करने की हिदायत दी गई है। माजिद की मां के वीडियो पर 90 फीसदी ट्वीट, रिट्वीट और फेसबुक शेयर जम्मू-कश्मीर पुलिस के आफिसियल एकाउंट से हुआ था।

#

About the author

INA NEWS

भारत एक लोकतांत्रिक देश है। जिसमें हर व्यक्ति को अपने विचारों और सुझावों को रखने का पूर्ण मौलिक अधिकार है लोकतंत्र के चार स्तंभों में से एक स्तंभ पत्रकारिता का भी है, जिसका स्वर्णिम इतिहास रहा है और देश के सामाजिक व आर्थिक विकास एवम् प्रभाव के लिए पत्रकारिता की अहम भूमिका रही है। - - उदय सिंह यादव, एडिटर-इन-चीफ, INA NEWS, INA NEWS AGENCY, INA TV, INA LIVE,

Add Comment

Click here to post a comment